bpl2भोपाल,  म.प्र.संविदा बिजली कर्मचारियों ने अपने नियमितिकरण को लेकर घास-फूस एवं पत्तियां खाकर विरोध प्रर्दशन किया.

म.प्र. संविधाकर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2013 के चुनाव में तीसरी बार सरकार बनने पर बिजली संविदा कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया था,लेकिन सरकार बनने के बाद नियमित करने के बजाय विधुत वितरण कम्पनी के एम.डी. विवेक पोरवार के द्धारा सेवा समाप्त किये जाने के नोटिस दिये
जाने लगे.

इससे नारज कर्मचारी अपनी मांगो को लेकर भुख हड़ताल पर बैठ गये,हड़ताल के दुसरे दिन सभी संविदा कर्मचारियों ने घास-फूस एवं पत्तियां खाकर बिजली दफतर के सामने प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी की.

Related Posts:

सहभागिता से ही सार्थक होगा जनतंत्र
प्रधानमंत्री मोदी आज भोपाल में दसवें विश्व हिन्दी सम्मेलन का करेंगे उद्घाटन
प्रदेश में वॉटर-टूरिज्म की हुई शुरूआत
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डॉ. अम्बेडकर जयंती पर नागरिकों को बधाई दी
गुणवत्तापूर्ण हो स्कूलों का शैक्षणिक स्तर एवं वातावरण
स्टूडेंट्ïस ने जाना फिजियोथैरेपी का महत्व