modiनई दिल्ली/कोलकाता, 10 मई. एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यूपीए सरकार के जमीन बिल का समर्थन करना बीजेपी की गलती थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में विपक्ष के हमलों पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हम ईंट का जवाब पत्थर से नहीं देना चाहते. मोदी ने भूमि अधिग्रहण विधेयक में बदलाव को उन्होंने देशहित में जरूरी बताया. यह कानून 120 साल बाद बदला गया था.

इतने पुराने कानून पर विचार के लिए 120 घंटे भी लगाए थे या नहीं लगाए थे और उसमें सिर्फ कांग्रेस पार्टी दोषी है, ऐसा नहीं है. हम भी भाजपा के तौर पर दोषी हैं क्योंकि हमने साथ दिया था. चुनाव सामने थे और सदन पूरा होना था, इसलिए जल्दबाजी में निर्णय हो गया.

Related Posts: