झांसा देकर शादी करने का मामला :

  • गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह बोले- जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी,
  • महिला का आरोप- विभाग के अधिकारी आरोपी को बचाने में जुटे

नवभारत न्यूज
भोपाल,

अभी पीएचक्यू की क्यूडी शाखा में पदस्थ एएसपी राजेंद्र वर्मा का मामला ठंडा नहीं हुआ था कि पीएचक्यू की प्रशासन विभाग में पदस्थ महिला एएसआई ने विभागीय अधिकारियों पर आरोप लगाए हैं.

महिला एएसआई का कहना है कि आरोपी के जीजा एएसपी स्तर के अधिकारी हैं, जिसके चलते कार्रवाई नहीं की जा रही है. वहीं गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने मामला सामने आने के बाद कहा है कि मामले की जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी.

महिला एएसआई ने बताया कि पीएचक्यू में पदस्थापना के दौरान वह सब इंस्पेक्टर काशीराम के संपर्क में आ गई थी. इसके बाद उन्होंने आर्य समाज मंदिर में 3 मई 2014 को शादी की थी. महिला ने बताया कि एसआई ने झांसा देकर शादी की थी, इसके बाद दोनों के बीच मतभेद हो गए और महिला एएसआई ने 7 जुलाई 2015 को जहांगीराबाद थाने में मामला दर्ज कराया था.

महिला एएसआई ने आरोप लगाते हुए कहा कि उक्त एसआई के एक रिश्तेदार चंबल अंचल में एएसपी स्तर के अधिकारी है, जिनके दबाव में मामला दबाया जा रहा है. महिला ने कहा कि मामला दर्ज होने के बाद भी अब तक कोई विभागीय कार्रवाई नहीं की गई है, और जीवन बर्वाद करने वाला धड़ल्ले से नौकरी कर रहा है.

महिला ने कहा कि पुलिस के अधिकारी बचाने में जुटे हुए हैं. महिला एएसआई ने मुख्यमंत्री, गृहमंत्री व डीजीपी से न्याय की गुहार लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है. बता दें कि उक्त एसआई वर्तमान में पचमढ़ी में पदस्थ है.

वहीं घटना को लेकर गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह का कहना है कि यह मामला उनके संज्ञान में आज ही आया है, वे मामले की जांच करवाकर उचित कार्रवाई करेंगे.

Related Posts: