महिला की हालत गंभीर

नवभारत न्यूज मुरैना/पोरसा,

बरसों से देवीभक्ति में लीन महिला ने बुधवार को माता को प्रसन्न करने के लिए ब्लेड से अपनी जीभ काटकर चढ़ा दी. घटना पोरसा क्षेत्र के तरसमा गांव में दोपहर करीब 2.30 बजे होना बताई गई है. महिला को गंभीर हालत में पोरसा से ग्वालियर रैफर किया गया है.

जानकारी के अनुसार तरसमा गांव में रहने वाले रविन्द्र सिंह तोमर एक किसान है. खेती से प्राप्त होने वाली आमदनी से वे परिवार का भरण-पोषण करते है. परिवार में पत्नी गुड्डी तोमर 45 साल के अलावा तीन पुत्र क्रमश: 20, 18 और 16 वर्ष है. रविन्द्र सिंह ने बताया कि उनकी पत्नी गुड्डी तोमर 45 साल शादी के बाद जब ससुराल पहुंची थी. तभी से घर के नजदीक स्थित बीजासेन माता मंदिर पर पूजा करने जाती थी.

उन्होंने बताया कि पत्नी गुड्डी पूरी तरह से माता की भक्ति में लीन रहती थी. बुधवार की दोपहर रविन्द्र खेतों पर गए हुए थे. इसी दौरान दोपहर करीब 2.30 बजे गुड्डी बीजासेन माता के मंदिर पर पहुंची और ब्लेड से अपनी जीभ काटकर माता को भेंट कर दी. मंदिर के पास ही बकरियां चरा रहे किशोर ने जब मंदिर में खून देखा तो उसने ग्रामीणों को सूचना दी.

ग्रामीण मंदिर पहुंचें तो वहां गुड्डी लहुलुहान अवस्था में अचेतावस्था में मिली और उसकी कटी हुई जीभ पास ही पड़ी हुई थी. गुड्डी को पोरसा अस्पताल ले जाया गया. जहां से चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल रैफर कर दिया. गंभीर हालत को देखते हुए जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने उसे ग्वालियर रैफर किया है.

Related Posts: