युवा संवाद में विद्यार्थियों ने सीएम से की दिल की बात

नवभारत न्यूज. भोपाल,

मुख्यमंत्री जी प्रणाम मेरा नाम मधुसूदन है, क्या आप मुझको जानते है, मुख्यमंत्री बोले हां बेटा भगवान कृष्ण का नाम है, मधुसूदन जानता हुं मैं, मधुसूदन बोला नहीं मामा जी मैं माउण्ट एवरेस्ट पर चढ़ा सबसे कम उम्र का युवा हुं मैं, अफ्रीका महाद्वीप की सबसे उंची पर्वत श्रृंखला पर मैं सबसे लंबे सबसे तक रहा युवा हुं मैं मामाजी. और मुझे कोई नहीं जानता, यह वाक्या घटा शहर के मानसरोवर डेटल कॉलेज में हुए,
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के युवा संवाद के दौरान जब इंदौर से आये युवा के सवाल पर मुख्यमंत्री मौन हो गये.

मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के विजेता छात्रों के साथ कॉफी विद सीएम कार्यक्रम में भाजपा के संगठनात्मक 56 जिलों से छात्र छात्राओं ने इसमें शिरकत की. कैसा हो मेरा मध्यप्रदेश विषय पर मुख्यमंत्री से युवाओं ने संवाद किया, जिसमे प्रदेश भर से आये छात्र छात्राओं ने मुख्यमंत्री से अपने मन की बात की.

इस दौरान बारी बारी से छात्रों ने अपने मन की बात कही, जिसमें पन्ना जिले से आयी दिव्यांग छात्रा ने वहां मेड़ीकल कॉलेज की मांग कर दिव्यांगों के लिए विशेष प्राबंधन करने की बात की.

वहीं 9 वी कक्षा की एक छात्रा ने मुख्यमंत्री से कहा मामा आज मेरे बर्थडे गिफ्ट के रुप में पन्ना में मेड़ीकल कॉलेज खोलिए जिसपर मुख्यमंत्री ने जब उनसे जनसंख्या पूछी तो वह चुप हो गई, तब चौहान बोले बेटा समय इतनी जल्दी में घोषणा नहीं कर सकता, अभी अपन साथ में केंक काटेगे, जिसपर बच्ची सपाक से बोली सेल्फी भी खीचेगे.

इस अवसर पर युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे ने बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के निमित्त युवा मोर्चा मध्यप्रदेश द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता मेरे दीनदयाल का आयोजन किया गया था जिसमें ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों फेस में 30 लाख 12 हजार प्रतिभागी सम्मिलित हुए, जिसमें हमने वल्र्ड रिकार्ड बनाया है.

मामा आप अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में पढ़ाओगे

यह आयोजन भारतीय जनता युवा मोर्चा का था, जिसमें युवामोर्चा जिलाध्यक्षो को अपने जिले से एक छात्र को संवाद में बुलवाना था, पर छात्रों के प्रश्न सुनकर मुख्यमंत्री सहित मंच पर बैठे अन्य अतिथि भौचक्के रह गए.

पन्ना से आयी छात्रा ने मुख्यमंत्री से पूछा कि प्रदेश के सरकारी स्कूलो की हालत बहुत खराब है, क्या आप अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में पढाओगे. जिसके उत्तर में मुख्यमंत्री बोले बेटा उनकी पढ़ाई पुरी हो चूकी है.

वही नर्मदापुरम संभाग की छात्रा ने बोला कि मामा बाकि सब तो प्रदेश में ठीक चल रहा है, पर कॉफी विद सीएम कार्यक्रम में अभी तक कॉफी नहीं मिली है, जिस पर भाजयुमों प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पाण्डे ने कार्यकर्ताओं को कॉफी देने का इशारा किया, तब जाकर 10 जिलों 60 बच्चों को कॉफी मिली.

Related Posts: