अंबेडकर नगर , 2 फरवरी. कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने गुरुवार को सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के मुस्लिम प्रेम पर सवाल खड़े किए और बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती पर यूपी शाइनिंग के मुगालते में जीने का आरोप लगाया.

राहुल ने सपा और बसपा द्वारा अपने-अपने चुनाव घोषणापत्र में किए गए वादों को झूठ बताते हुए कहा कि इस पार्टी के नेता चुनावी बेला में वह सब कुछ कहने को तैयार हैं जो जनता सुनना चाहती है. कांग्रेस महासचिव ने अंबेडकरनगर में आयोजित चुनावी सभा में कहा कि मुलायम सिंह कहते हैं कि कांग्रेस ने मुसलमानों को कम आरक्षण दिया. वह खुद तीन बार राज्य के मुख्यमंत्री रहे लेकिन उन्होंने अपने स्तर पर इस दिशा में कुछ नहीं किया और जब रशीद मसूद ने आरक्षण की बात कही तो उन्हें पार्टी से निकाल दिया. मुस्लिम आरक्षण को लेकर यादव के वादे को झूठ बताते हुए राहुल ने कहा कि मुलायम सिंह कहते हैं कि वह 28 प्रतिशत आरक्षण देंगे सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इतना आरक्षण नहीं दिया जा सकता लेकिन मुलायम कह रहे हैं कि वह देंगे. वह झूठ बोलते हैं. वह सोचते हैं कि जनता कुछ नहीं समझती. उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह बिजली, पानी और आरक्षण देने की बात कर रहे हैं. वह सोचते हैं कि जनता कुछ नहीं समझेगी. वह वादे तो करते हैं मगर जब जनता के हक के लिए लडऩे की बात आती है तो कुछ नहीं करते. राहुल ने कहा कि मुलायम तीन बार मुख्यमंत्री बने. हमने पीडीएस का अनाज भेजा. उनके लोगों ने उसमें घोटाला किया. आपका भोजन चोरी किया. मायावती पर ‘यूपी शाइनिंग’ के मुगालते में जीने का आरोप लगाते हुए राहुल ने कहा कि मुख्यमंत्री के अफसरों ने उन्हें बताया कि वह बहुत अच्छी तरह शासन कर रही हैं और उत्तर प्रदेश चमक रहा है. राहुल ने कहा कि ये बड़े-बड़े अफसर नेताओं की आंखें बंद कर देते हैं. मायावती जब मुख्यमंत्री बनीं तो उनके अधिकारियों ने कहा कि आप बहुत अच्छा काम कर रही हैं और आपको गांवों में जाने और मजदूरों, किसानों से बात करने की जरूरत नहीं है. उत्तर प्रदेश चमक रहा है. उन्होंने कहा कि मायावती ने भी समझ लिया कि उत्तर प्रदेश चमक रहा है और वह गांवों में जाना भूल गई. क्या आपमें कोई कमी है जो वह आपके यहां नहीं जातीं.

Related Posts: