बार्सिलोना,

अर्जेंटीना के स्टार फुटबालर लियोनल मैसी को यूरोप लीग के आखिरी सत्र में सर्वाधिक स्कोर करने के लिये चौथी बार गोल्डन शू अवार्ड से सम्मानित किया गया है।इसी के साथ उन्होंने क्रिस्टियानो रोनाल्डो की भी बराबरी कर ली है।

बार्सिलोना फारवर्ड मैसी और रियाल मैड्रिड के रोनाल्डो दोनों अब चार-चार बार गोल्डन शू अवार्ड हासिल कर एक बराबरी पर हैं।मैसी ने स्पेनिश लीग में 37 गोल स्कोर किये थे और उन्होंने इस मामले में हॉलैंड स्ट्राइकर बास दोस्त को पीछे छोड़ा जिनके नाम 34 गोल थे।

30 वर्षीय मैसी ने वर्ष 2009-10 में यूरोप लीग में सर्वाधिक 34 गोल किये थे, 2011-12 में 50 गोल और 2012-13 में उन्होंने 46 गोल किये और गोल्डन शू के हकदार बने थे।यह चौथा मौका है जब मैसी को उनके यूरोप की सभी लीगों में सर्वाधिक स्कोरर बनने के लिये यह सम्मान दिया गया है।

अर्जेंटीना स्टार को उनके बार्सिलोना के टीम साथी लुईस सुआरेज़ ने अवार्ड देकर सम्मानित किया जो 2015-16 में 40 गोल के साथ गोल्डन शू विजेता रहे थे।बार्सिलोना में हुये इस सम्मान समारोह में आंद्रेस इनिएस्ता और सर्जियो बुसक्वेट्स ने भी हिस्सा लिया।

बार्सिलोना में मैसी के पदार्पण के 13 वर्ष भी पूरे हो चुके हैं और उन्होंने माना कि वह अब अपने क्लब के लिये खेलने में और भी रोमांच महसूस करते हैं।यह दिलचस्प है कि मैसी,रोनाल्डो और सुआरेज़ ही पिछले नौ वर्षाें से गोल्डन शू अवार्ड के हकदार बनते आ रहे हैं।

उन्होंने चौथी बार यह सम्मान मिलने पर कहा“ मैंने खुद को कभी फारवर्ड नहीं माना।मैं सौभाग्यशाली हूं कि गोल कर पा रहा हूं।मैंने पिच पर और पिच के बाहर काफी विकास किया है।मैं समय के साथ बेहतर हो रहा हूं और मैंने अपने खेल में भी काफी सुधार किया है तथा मुझे खेलने में पहले से अधिक मजा आने लगा है।”

Related Posts: