मध्यप्रदेश में इस समय मौसम ही बीमारी बन गया है. साधारण रूप से कुछ दिनों बहुत परेशानी करने वाली बीमारी वायरल ने लोगों को बड़े पैमाने पर अपनी चपेट में ले लिया है.

राजधानी भोपाल के जे.पी. अस्पताल के सिविल सर्जन डाक्टर आई.के.चुग ने कहा है कि भोपाल की आधी आबादी इन दिनों वायरल से पीडि़त है. सर्दी-खांसी, बुखार से त्रस्त है. अस्पतालों में भीड़ बढ़ती ही जा रही है.

मौसम में आए बदलाव के कारण यह स्थिति निर्मित हुई है. उत्तरी हिमालयी राज्यों में भारी हिमपात चल रहा है. राज्य में आसमान साफ रहने से सूरज की गर्मी भी दिन में बढ़ रही है. इसके कारण दिन और रात के तापमान में राज्य भर में अंतर हो जाने की स्थिति ही वायरल का कारण है.

लोगों को अपने रहन-सहन में इस तरह से कपड़े पहनने चाहिए कि मौसम में आये तापमान के अंतर का उन पर कम से कम असर हो. शाम होते ही उन्हें पूरे गर्म कपड़ों में ही रहना चाहिये. अभी इस तरह का मौसम कई दिनों चलने के संकेत मौसम विभाग ने दिये हैं. पिछले कुछ दिनों से राज्य भर में दिन का तापमान रात के तापमान के मुकाबले तीन गुना बढ़ जाता है और हवायें ठंडी चल रही हैं.

Related Posts: