पुलिस लापरवाही से ग्रामीण आक्रोशित

नवभारत न्यूज बैतूल/शाहपुर,

शाहपुर थाना क्षेत्र के कामठी में बुधवार एक युवक से परेशान होकर कालेज की छात्रा द्वारा आत्महत्या करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. आक्रोशित ग्रामीणों ने शाम को युवक के घर को जलाने का असफल प्रयास भी किया, लेकिन ऐसा नहीं हो सका.

पूरे मामले के लेकर पुलिस कार्यप्रणाली से ग्रामीण खासे आक्रोशित हैं. स्थिति यह निर्मित हो गई है कि एएसपी, शाहपुर एसडीओपी रात से ही कामठी में डेरा डाले हुए है.

गुरूवार सुबह स्वयं एसपी भी यहां पहुंच गए. अभी भी कामठी में किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. सूत्रों के अनुसार जया चौरे नाम की छात्रा का विवाह तय हो चुका था. इसके बावजूद ब्रजेश अश्वारे नाम का युवक उसे लम्बे समय से परेशान कर रहा था. कॉलेज में पढऩे वाली होनहार छात्रा इस परेशानी से तंग आ चुकी थी.

भौंरा चौकी में छात्रा ने अपनी पीड़ा बताते हुए आवेदन भी दिया, लेकिन न तो शाहपुर थाना और न ही भौंरा चौकी से किसी जिम्मेदार पुलिस अधिकारी ने उसकी समस्या पर ध्यान दिया.

बुधवार को छेड़छाड़ से तग आकर उसने आत्महत्या कर ली. छात्रा द्वारा आत्महत्या करने के बाद ग्रामीणों में पुलिस कार्रवाई के प्रति आक्रोश पनप गया. सूचना देने के बावजूद 3 घंटे से अधिक तक भौंरा चौकी से कोई भी पुलिस कर्मचारी कामठी नहीं आया. इससे ग्रामीण और अक्रोशित हो गए.

इस बीच खबर मिली कि आक्रोशित ग्रामीणों ने युवक के घर को जलाने का भी प्रयास किया, हालांकि पुलिस के पहुंचने से ऐसी नौबत नहीं आई. पुलिस के पहुंचने के बाद छात्रा का शव शाहपुर पोस्टमार्टम के लिए लाया गया है. लेकिन यहां महिला चिकित्सक न होने से बैतूल में पोस्र्टमार्टम कराया गया है.

Related Posts: