अभी तक आप सुबह उठने के लिए टाइम सेट करते थे लेकिन गूगल का एक नया फीचर आपको डिजिटल आदतों या तकनीक से ब्रेक लेने की याद दिलाएगा. यूट्यूब अपने यूजर्स को तकनीक और जिंदगी के बीच तालमेल में मदद करने के लिए लगातार नए फीचर्स जारी कर रहा है.

अब बारी है यूट्यूब की- गूगल आईओ 2018 में सर्च दिग्गज ने एक वेलबींग अभियान का ऐलान किया था जिसके जरिए यूजर्स को उनकी डिजिटल आदतों और डिवाइस एडिक्शन को समझने में मदद मिलती है.

विडियो स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म यूट्यूब भी इस अभियान का हिस्सा है, जिसके तहत यूजर्स कुछ समय के लिए अपनी ऑनलाइन जिंदगी से कुछ देर के लिए कस्टम ब्रेक्स ले पाएंगे. गौर करने वाली बात है कि यूट्यूब ऐंड्रॉयड ऐप के नए वर्जऩ में टेक अ ब्रेक नाम के नए फीचर को जारी किया जा रहा है.

यूट्यूब का टेक अ ब्रेक फीचर मोबाइल ऐप में सेटिंग स्क्रीन पर उपलब्ध है. यूजर्स 15, 30, 60, 90 या 180 मिनट के अंतराल पर रिमाइंडर सेट कर सकते है. एक बार यूजर द्वारा ऑप्शन सिलेक्ट करने पर,यूट्यूब चुनी हुई अवधि पर वीडियोज़ को रोक देगा. तब, यूजर रिमाइंडर को डिसमिस कर वीडियो देखते रहने या फिर ऐप को बंद करने का विकल्प चुन सकते हैं. गौर करने वाली बात है कि, सेटिंग ऑप्शनल है और इसे बाय डिफॉल्ट स्विच ऑफ किया जा सकता है.

इसके अलावा, यूट्यूब के नोटिफकेशंस मेन्यू में दो और नए फीचर्स आए हैं. इनमें से एक ऑप्शन है डिसएबल साउंड्स एवं बाइब्रेशन जिसके जरिए आप यूट्यूब ऐंड्रॉयड ऐप में एक निश्चित समय के लिए सभी नोटिफिकेशन साउंड्स को डिसेबल कर पाएंगे. एक दूसरा नया फीचर सेड्यूल्ड डाइजेस्ट है जिसके जरिए यूजर्स को दिन में एक बार ही सभी नोटिफिकेशन मिल जाएंगी. टेक अ ब्रेक और दूसरे नोटिफिकेशन फीचर्स यूट्यूब ऐप के लेटेस्ट वर्जऩ 13.17.55 में उपलब्ध हैं.

नए फीचर को सेटिंग्स > जनरल में जाकर ऐक्सेस किया जा सकता है और नोटिफिकेशंस फीचर सेटिंग्स नाटिफिकेशन में उपलब्ध है.गूगल की तरफ से टेक्नॉलजी से दूरी बनाने और यूजर्स की मदद करने के लिए डिज़ाइन किए गए ये आखिरी फीचर्स नहीं हैं. ऐंड्रॉयड पी के साथ, गूगल डिजिटल वेलबींग अभियान के तहत कंपनी कई सारे नए फीचर्स को लाने पर काम कर रही है.