भोपाल,

वार्ड-25 स्थित रमानगर के रहवासियों को रजिस्ट्री नहीं मिलने की 42 साल पुरानी समस्या का निराकरण जल्दी होगा.

राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने हाउसिंग बोर्ड और राजस्व विभाग के अधिकारियों को इस समस्या का समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए. गुप्ता ने कहा कि जिस जमीन में लोग रहते हैं, वह जमीन हाउसिंग बोर्ड को अप्रैल माह के अंत तक हस्तांतरित कर दी जायेगी. इसके बाद हाउसिंग बोर्ड रहवासियों को आंवटित जमीन की रजिस्ट्री करवायेगा. इससे 256 से अधिक परिवारों को लाभ मिलेगा.

हाउसिंग बोर्ड द्वारा लगभग 42 वर्ष पहले इन्हें प्लाट दिये गए थे लेकिन तकनीकी कारणों से इनकी रजिस्ट्री नहीं हो पा रही थी. गुप्ता ने रहवासियों से कहा कि अब वे इस कार्य के लिए किसी के पास नहीं जायें. इस दौरान स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे.

Related Posts: