• मैच हुआ ड्रा समाप्त, पहली पारी की बढ़त के आधार पर मिली जीत
  • विदर्भ की ओर से दोहरी शतकीय पारी खेलने वाले जाफर बने मैन ऑफ द मैच

नागपुर,

रणजी चैंपियन विदर्भ के बल्लेबाज़ों के अविश्वसनीय प्रदर्शन के बाद रविवार यहां मैच के पांचवें और अंतिम दिन रविवार को शेष भारत के खिलाफ मैच ड्रा समाप्त हुआ, लेकिन पहली पारी की बढ़त के आधार पर ईरानी कप 2017-18 का खिताब विदर्भ के सिर सजा.

विदर्भ की पहली पारी में 286 रन की शानदार दोहरी शतकीय पारी खेलने वाले 40 साल के वसीम जाफर को मैन ऑफ द मैच चुना गया. विदर्भ ने शेष भारत के खिलाफ पहली पारी में सात विकेट पर 800 रन बनाने के बाद पारी घोषित कर दी थी जो ईरानी कप के इतिहास में सर्वाधिक स्कोर भी है.

शेष भारत अपनी पहली पारी में 129.1 ओवर में 390 पर ऑल आउट हो गयी. विदर्भ ने 410 रन की बढ़त के बावजूद शेष भारत से फालोऑन नहीं कराया और दूसरी पारी में बल्लेबाजी की. विदर्भ ने 26 ओवर के खेल में बिना किसी विकेट के नुकसान के 79 रन बनाये और मैच ड्रा समाप्त हो गया. विदर्भ को उसकी पहली पारी की बढ़त के आधार पर ईरानी कप चैंपियन घोषित कर दिया गया.

विदर्भ का ईरानी कप पर पहली बार कब्•ाा तो उसी समय सुनिश्चित हो गया था जब उसने पहली पारी 800 रन के विशाल स्कोर पर घोषित कर दी थी. मैच के अंतिम दिन यही देखना बाकी था कि विदर्भ सीधी जीत दर्ज कर पाता है या नहीं. शेष भारत ने कल के छह विकेट पर 236 रन से आगे खेलना शुरू किया.

हनुमा विहारी ने 81 और जयंत यादव ने 62 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया. हनुमा ने 327 गेंदों में 23 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 183 रन की शानदार पारी खेली जो प्रथम श्रेणी में उनका 14वां शतक भी था.

Related Posts: