विधायक ने मेरा शारीरिक शोषण नहीं किया: पीडि़ता

  • कैरियर चौपट करने के लिए अटेर के पूर्व विधायक ने रचवाई साजिश

भोपाल,

तीन माह पूर्व अटेर से कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे पर दुष्कर्म के आरोप लगाकर सनसनी फैलाने वाली युवती ने अब एक नया खुलासा किया है. पुराने आरोपों से पलटते हुए युवती ने कहा कि वो तीन महीने से लगातार झूठ बोल रही थी, उसने एसआईटी को भी झूठ बोला है.

युवती ने कहा कि विधायक हेमंत कटारे ने मेरा शारीरिक शोषण नहीं किया. पूरा मामला राजनीति से प्रेरित है और विधायक कटारे का राजनीतिक कैरियर खराब करने के लिए यह पूरी साजिश रची गई थी.

मेरा राजनीतिक इस्तेमाल किया गया और इस पूरे खेल के पीछे पूर्व विधायक अरविंद भदौरिया का हाथ है. माखनलाल विश्वविद्यालय से पत्रकारिता कर रही छात्रा उस समय सुर्खियों में आई थी, जब उसने अटेर से कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे पर दुष्कर्म के आरोप लगाए थे. युवती ने जबलपुर में प्रेस कांफ्रेस कर आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वह अब सिर्फ सच बोलेगी.

मामले में सहआरोपी बनाए गए विक्रमजीत सिंह अपने वकील और विशाल खत्री जेल में मिलने पहुंचे थे, और झूठे आरोप लगाने को कहा था. युवती ने बताया कि मुझे कहा गया कि हेमंत के सारे दुश्मन एक हो गए है. युवती ने कहा कि उसे चीफ जस्टिस को पत्र लिखने को भी मजबूर किया गया था. मेरा राजनैतिक उपयोग किया गया. युवती ने कहा कि मेरा नार्को टेस्ट करवा लीजिये में सच बोल रही हूं. युवती ने कहा कि हेमंत पर दर्ज कराए गए मामले वह वापस लेगी.

आरोप निराधार, मेरा कोई लेना देना नहीं

वहीं जब इस मामले पर पूर्व विधायक अरविंद सिंह भदौरिया से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि आरोप निराधार हैं. उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है. किसी बड़ी एजेंसी से जांच करा ली जाए तो हकीकत सामने आ जाएगी.

जेल में मुझसे मसाज करवाई गई

युवती ने कहा मेरी जिंदगी खराब हो गई है, मेरे साथ जेल में भी अमानवीय व्यवहार किया गया. मुझे जेल में निर्वस्त्र किया गया, मुझसे मसाज करवाई गई. युवती ने कहा कि हेमंत ने उसका शारीरिक शोषण नहीं किया, बल्कि जेल में शारीरिक शोषण किया गया.

Related Posts: