जिम्मेदारों का दावा शीघ्र आएगी शुल्क में कमी

नवभारत न्यूज भोपाल,

हबीबगंज रेलवे स्टेशन का पार्किंग शुल्क बढऩे के आठ दिन बाद यात्रियों का विरोध और निराशा साफतौर पर नजर आने लगी है.

हबीबगंज स्टेशन की पार्किंग में पहले जहां लोगों को गाड़ी खड़ी करने के लिये खासी जद्दोजहद करनी पड़ती थी, उसी पार्किंग में अब कोई वाहन खड़ा करना नहीं चाह रहा है. इसी के चलते 80 फीसदी पार्किंग खाली नजर आ रही है.

नवभारत द्वारा पार्किंग के कर्मचारियों से बात करने पर पता चला की पहले जहां लगभग एक हजार की संख्या में गाडिय़ां खड़ी होती थी, वहीं अब संख्या घटकर डेढ़ सौ से दो सौ के करीब सिमटकर रह गई है.

पार्किंग शुल्क वृद्धि के विरोध को अब प्रशासन भी नजरअंदाज नहीं कर पा रहा है. यही कारण है कि पश्चिम-मध्य रेलवे के डीआरएम शोभन चौधरी ने स्पष्टï रूप से कहा है कि शीघ्र ही बढ़े हुये शुल्कों में कमी की जायेगी. लेकिन वह कितनी कम होगी, इस बारे में वह कुछ नहीं बता पाये हैं.

यात्रियों का कहना है कि शुल्क वृद्धि के नाम पर नाजायज पैसा वसूला जा रहा है. 1 फरवरी से लागू किये गये शुल्कों के अनुसार दो पहिया वाहन का न्यूनतम पार्किंग शल्क 15 रुपये (दो घंटे तक की अवधि के लिये) और 240 रुपये 24 घंटे के लिये कर दिया गया था. वहीं चार पहिया वाहन के लिये 24 घंटे का पार्किंग शुल्क 540 रुपये कर दिया गया था.

नहीं थम रहा मुख्य सडक़ का जाम-शुल्कों में वृद्धि के बाद से ही अधिकतम लोग वाहनों समेत स्टेशन के बाहर मुख्य सडक़ पर ही परिजनों का इंतजार कर रहे हैं, जिसके कारण मुख्य सडक़ पर लगातार जाम की स्थिति बनी है.

जो यात्री गाड़ी खड़ी करने का शुल्क ईमानदारी से चुकाते हैं, उनसे शुल्क वृद्धि के नाम पर नाजायज पैसा वसूला जा रहा है. स्टेशन के बाहर लगी अवैध दुकानों पर प्रशासन चुप क्यों है?
-हरिपाल सिंह

सभी आने-जाने वाले लोगों को परेशानी हो रही है. जल्द ही पुराने शुल्क लागू करना चाहिये.
-स्वप्निल शशांक

शुल्क वृद्धि पर पुनर्विचार किया जा रहा है. जल्द ही जितना संभव हो सकेगा, पार्किंग की दरों में कमी की जायेगी. इसके लिये प्रस्ताव भेजा गया है.
-शोभन चौधरी,
 डीआरएम पश्चिम-मध्य रेलवे

Related Posts: