नयी दिल्ली,

तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक गजपति राजू ने आज कहा कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए उनकी पार्टी का संघर्ष संसद सत्र के समापन के बाद भी जारी रहेगा।

संसद भवन परिसर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने पार्टी के अन्य सांसदों के साथ धरने पर बैठे श्री राजू ने यूनीवार्ता से कहा “हमारा संघर्ष जारी रहेगा। यह किस रूप में होगा, कहां होगा और किस स्तर पर होगा, ये सारी बातें बाद में तय की जायेंगी।”

तेदेपा आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम के प्रावधानों के अनुरूप राज्य को आर्थिक पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रही है।

इसी मुद्दे पर पिछले महीने ही वह केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से अलग हुई है। माना जा रहा है कि स्थानीय राजनीति के दबाव में उसने यह रुख अपनाया है। इसकी शुरुआत चालू वित्त वर्ष के लिए पेश बजट से हुई। तेदेपा ने बजट में आंध्र प्रदेश के लिए किये गये आवंटन पर असंतोष जताया था।

Related Posts: