बच्ची के साथ खेलने के दौरान बिगड़ा संतुलन

  • तीन फिट की है छत की बाउंड्रीवॉल

भोपाल,

बेटी के साथ देर रात दूसरी मंजिल की छत पर खेल रहे व्यापारी की अचानक नीचे गिरने से मौत होने का मामला सामने आया है. व्यापारी को परिजन उपचार के लिए पास के अस्पताल ले गए, जहां दो घंटे चले उपचार के बाद व्यापारी ने दम तोड़ दिया. घटना दरिम्यानी रात साढ़े दस बजे की है. हनुमानंगज पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है.

मिली जानकारी के अनुसार खामचंद चावला पिता बालचंद चावला उम्र 46 वर्ष शांति नगर बैरसिया रोड़ पर रहते थे. वे खड़े मसाले की पैंकिग कर दुकानों पर सप्लाई करते थे. उनके एक बेटा सागर उम्र 17 वर्ष जो दसवीं कक्षा का छात्र है, जबकि बेटी महक उम्र 10 वर्ष कक्षा तीसरी की छात्रा है.

दरम्यिानी रात साढ़े दस बजे खाना खाने के बाद वे छत पर बेटी महक के साथ खेल रहे थे. बताया जा रहा है कि वे बेटी व वे छत पर दौड़ लगाकर खेल रहे थे. इसी बीच उनका संतुलन बिगड़ गया और वे नीचे जा गिरे.

इसमें उन्हें गंभीर चोटें आई, इसके बाद परिजन पास में स्थित अपेक्स अस्पताल ले गए, जहां उनकी मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि छत की बाउंड्री वाल तीन फीट की थी, जिससे वे भागते समय नियंत्रण नहीं रख पाए और यह हादसा हो गया.

परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

इस घटना के बाद से मासूमों के सिर से पिता का साया छीन गया है. पत्नी पूनम, बेटे व बेटी महक का रो-रोकर बुरा हाल था. जब पीएम के बाद शव को लाया गया तो वहां पर हर किसी की आंखे नम हो गई. मासूम बेटी बस यही कह रही थी कि अब वह किसके साथ खेलगी. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है.

Related Posts: