• शहादत को नमन करने ग्वालियर पहुंचे मुख्यमंत्री चौहान
  • शहीद की प्रतिमा स्थापित होगी, परिजन को नौकरी

भोपाल,

मुुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देश की सीमा की रक्षा करते हुए शहीद हुए वीर सपूत राम अवतार सिंह लोधी की शहादत को ग्वालियर पहुंचकर नमन किया. उन्होंने वायुसेना विमानतल महाराजपुरा पर शहीद की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की.

मुख्यमंत्री चौहान ने घोषणा की है कि प्रदेश सरकार शहीद राम अवतार की धर्मपत्नी को एक करोड़ रूपए की सम्मान राशि देगी, जो सेना द्वारा दिए जाने वाली राशि के अतिरिक्त होगी. साथ ही ग्वालियर में फ्लैट अथवा आवासीय प्लॉट भी मुहैया करवाया जायेगा ताकि शहीद राम अवतार के बेटा और बेटी की पढ़ाई बेहतर ढंग से हो सके.

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद राम अवतार की मां को आजीवन 5 हजार रूपए प्रतिमाह पेंशन भी प्रदेश सरकार देगी. उन्होंने उपयुक्त स्थान पर शहीद राम अवतार की प्रतिमा स्थापित करने और किसी सार्वजनिक स्थल का नाम भी उनके नाम पर रखने की घोषणा की. चौहान ने कहा कि शहीद की पत्नी रचना अथवा उनके परिवार द्वारा तय परिवार के सदस्य को नौकरी भी दी जायेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के नापाक इरादों का मुंहतोड़ जवाब देते हुए भारत मां की रक्षा के लिये ग्वालियर जिले के ग्राम बरौआ निवासी 27 वर्षीय वीर सपूत राम अवतार लोधी ने अपने प्राणों की आहुति दी है. उनकी धर्मपत्नी रचना अब पूरे प्रदेश की बहन और उनके बेटा-बेटी पूरे प्रदेश के बेटा-बेटी हैं.

चौहान ने कहा कि रण बांकुरे राम अवतार को भारत माता और प्रभु ने अपने श्रीचरणों में स्थान दिया है. मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना की और विपत्ति की इस घड़ी में परिवार को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की.

वायु सेना स्टेशन पर मुख्यमंत्री के अलावा केन्द्रीय पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, महापौर विवेक नारायण शेजवलकर, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद नंदकुमार सिंह चौहान, साडा अध्यक्ष राकेश जादौन, विधायक भारत सिंह कुशवाह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि, वायुसेना और भारतीय सेना के अधिकारियों ने भी शहीद की पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित किए. इसके बाद सेना के खुले वाहन में पूरे सैनिक सम्मान के साथ शहीद राम अवतार की पार्थिव देह को उनके गृह ग्राम बरौआ के लिये रवाना किया गया.

ज्ञातव्य है कि बीते रोज जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के समीप पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब देते समय ग्वालियर जिले के वीर सपूत राइफलमेन राम अवतार सहित भरतीय सेना के चार जांबाज शहीद हो गए थे.

हम नहीं, हमारा ऐक्शन बोलेगा

नई दिल्ली,

जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान द्वारा भारी गोलेबारी में रविवार को सेना के चार जवानों के शहीद होने के बाद सेना ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं. सेना ने सोमवार को कहा कि भारत पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देता रहेगा और उसकी कार्रवाई खुद बोलेगी.

उप-सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल शरत चंद ने कहा कि यह (जवाबी कार्रवाई) बिना कुछ कहे चल रही है, मेरा मानना है कि मुझे यह कहना नहीं है. हमारी कार्रवाई खुद बोलेगी.

Related Posts: