हैदराबाद,

स्टार ओपनर शिखर धवन (नाबाद 77) ने पहले ओवर में अजिंक्या रहाणे के हाथों मिले जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए शानदार अर्धशतक ठोका और सनराइजर्स हैदराबाद को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ सोमवार को नौ विकेट से आसान जीत दिला दी।

दो साल के निलंबन के बाद राजस्थान रॉयल्स की आईपीएल 11 में वापसी अच्छी नहीं रही और उसका बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों ही विभागों में निराशाजनक प्रदर्शन रहा।

राजस्थान ने टूर्नामेंट केअपने पहले मुकाबले में 20 ओवर में नौ विकेट पर 125 रन का मामूली स्कोर बनाया और रही सही कसर राजस्थान के कप्तान रहाणे ने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर शिखर का कैच टपका कर पूरी कर दी।

शिखर का उस समय खाता भी नहीं खुला था और बाएं हाथ के ओपनर ने इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए नाबाद अर्धशतक ठोककर हैदराबाद को एकतरफा जीत दिला दी।राजस्थान ने 15.5 ओवर में मात्र एक विकेट के नुकसान पर 127 रन बनाये।

गब्बर के नाम से मशहूर शिखर ने 57 गेंदों पर 13 चौकों और एक छक्के की मदद से मैच विजयी नाबाद 77 रन बनाये और अपने कप्तान केन विलियम्सन के साथ दूसरे विकेट के लिए 87 गेंदों में 120 रन की अविजित साझेदारी की।विलियम्सन ने 35 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के के सहारे 36 रन बनाये।

हैदराबाद का एकमात्र विकेट रिद्धिमान साहा के रूप में गिरा जिन्हे जयदेव उनादकट ने आउट किया।साहा पांच रन ही बना सके।

इससे पहले राजस्थान के 125 के स्कोर में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन ने 42 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से सर्वाधिक 49 रन बनाये।

इसके बाद दूसरा सर्वाधिक स्कोर श्रेयस गोपाल का रहा जिन्होंने 18 गेंदों में दो चौकों की मदद से 18 रन बनाये।कप्तान अजिंक्या रहाणे ने 13 गेंदों में 13 और राहुल त्रिपाठी ने 15 गेंदों में 17 रन का योगदान दिया।इंग्लैंड के करिश्माई आलराउंडर बेन स्टोक्स मात्र पांच रन बनाकर आउट हो गए।

राजस्थान के टीम एक समय नौवें ओवर में दो विकेट पर 63 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन इसके बाद उसने 60 रन जोड़कर सात विकेट गंवा दिए।

बंगलादेश के लेफ्ट आर्म स्पिनर शाकिब अल हसन ने 23 रन पर दो विकेट और तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कॉल ने मात्र 17 रन पर दो विकेट निकाल कर राजस्थान पर ब्रेक लगा दिया।भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टेनलेक और राशिद खान को एक- एक विकेट मिले।

Related Posts: