अशोकनगर,

मध्यप्रदेश में अशोकनगर जिले की मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के पहले आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के क्षेत्रीय सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रतिनिधि मनोज जैन के घर पहुंचने से कई राजनीतिक अटकलों ने जन्म ले लिया।

हालांकि सांसद प्रतिनिधि श्री जैन ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की अटकलों से साफ इंकार कर दिया।

अपने दो दिवसीय मुंगावली दौरे के दौरान कल श्री चौहान मुंगावली विधानसभा में करीब 100 किलोमीटर लंबा रोड शो करते हुए 37 से ज्यादा गांवों से गुजरे थे। दौरे के दूसरे दिन आज श्री चौहान कई मंत्रियों और पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान के साथ श्री जैन के घर पहुँचे और उनके साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने कई समाजों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की।

श्री चौहान के जाने के बाद श्री जैन ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने भाजपा की सदस्यता नहीं ली है। मुख्यमंत्री उनके घर आये थे और उन्होंने परिवार के सदस्य की तरह उनका स्वागत किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस दौरान सांसद श्री सिंधिया के उस बयान पर भी पलटवार किया, जिसमें उन्होंने मुंगावली-कोलारस उपचुनाव को सिंधिया बनाम सरकार की लड़ाई बताया था। श्री चौहान ने कहा कि वे तो लड़ना-भिड़ना जानते ही नहीं।

श्री चौहान ने मुंगावली-कोलारस के पिछड़ेपन के लिए सांसद श्री सिंधिया को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उन्हें डर है कि अगर वे बार-बार अशोकनगर-शिवपुरी आए, तो उनका यहां एकाधिकार बंद हो जायेगा, इसलिए उन्होंने कभी किसी काम के लिए नहीं कहा और न ही क्षेत्र के विकास के लिए कोई बात की।

Related Posts: