श्रीनगर,

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में आज आतंकवादियों के खिलाफ चलाए गये घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान हुए मुठभेड़ में सभी तीनों विदेशी आतंकवादी मारे गये तथा केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का सहायक कमांडेंट समेत कई जवान घायल हो गये।

पुलिस महानिदेशक एस पी वैद ने ट्वीट कर बताया कि मुठभेड़ समाप्त हो गया है। उन्होंने कहा,“चट्टाबल श्रीनगर में मुठभेड़ खत्म हो गया। राज्य पुलिस और सीआरपीएफ के साथ मुठभेड़ में मारे गये तीनों आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गये हैं। शाबास जवानों।”

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि जम्मू कश्मीर पुलिस की विशेष अभियान सूमह (एसओजी) और सीआरपीएफ ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद शहर के रामपुरा चट्टाबल इलाके में तड़के पांच बजे संयुक्त तलाशी अभियान शुरू किया गया।

सुरक्षा बल जब इलाके को सील कर रहे थे वहां छिपे हुए आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ शुरू हो गयी।

मुठभेड़ के दौरान आतंकवादियों को बार-बार आत्मसमर्पण करने की चेतावनी दिये जाने के बावजूद उन्होंने गोलीबारी जारी रखी। प्रवक्ता ने बताया,“मुठभेड़ के दौरान तीनों आतंकवादी मारे गये जबकि सीआरपीएफ के सहायक कमांडेंट लंबोचा सिह समेत कुछ अन्य जवान घायल हो गये।”

प्रवक्ता के मुताबिक मारे गये तीनों आतंकवादियों के विदेशी होने की संभावना है। मुठभेड़ समाप्त हो चुकी है। इसबीच, श्रीनगर में कई स्थानों पर झड़पें शुरु हो गयी हैं। अधिकांश दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद हैं। पुराने इलाके तथा सिविल लाइंस में कई स्थानों पर भीड़ को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षा बलों को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

Related Posts: