अब राम मंदिर बनाने का समय अनुकूल आ गया है : महंत नृत्यगोपाल दास

छतरपुर, नवभारत न्यूज,

बुन्देलखण्ड की बेटी और केंद्रीय मंत्री उमाश्री भारती के सार्वजनिक जीवन के 50वर्ष तथा संन्यास दीक्षा के 25वर्ष पूर्ण होने पर आज मोटे के महावीर मंदिर में श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंतश्री नृत्यगोपाल दास महाराज के सानिध्य में आर्शीवाद समारोह का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर अनेक श्रद्धालुओं ने महंतश्री और उमाश्री से आर्शीवाद प्राप्त किया। इसके पहले उमाश्री ने मोटे के महावीर मंदिर में पूजा अर्चना की और गायों को रोटी खिलाई।

उमाश्री भारती ने अपने सार्वजनिक जीवन के 50वर्ष पर प्रकाश डालते हुए बचपन से लेकर अब तक की दास्तां पूरी बेबाकी से सुनाई। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लोगों ने फूंक मारकर उन्हें आसमान में उड़ा दिया। वे राम का नाम, तिरंगा की शान और गंगा से अलग नहीं है।

उन्होंने भरोसा दिलाया कि वे इस क्षेत्र और अपने गुरूओं को कलंकित नहीं होने देंगी। उन्होंने कहा कि जब मैं मध्यप्रदेश की मुख्यमंत्री बनी थी तब अनुभव की दृष्टि से कमजोर थी इसलिए राजनीतिक साजिस का शिकार हो गयी।

उन्होंने संन्यास के बारे में बताया कि उनकी शादी तय हो जाने पर उन्होंने बारात लौटा दी थी और राजमाता से सन्यास लेने के बारे में कहा था। दक्षिण भारत के संत तेजावर स्वामी ने परम्पराएं तोडक़र उन्हें 25वर्ष पूर्व अमरकंटक में संन्यास दीक्षा दी थी।

उन्होंने भाजपा में वापिस लौटने और केंद्र में गंगा मंत्रालय छोडऩे की भी विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रामजन्मभूमि आंदोलन, कर्नाटक के हूबली में तिरंगा आंदोलन, रामसेतु, गंगा जागरण आदि मामलों में महंत श्री नृत्यगोपालदास महाराज का मार्गदर्शन मिलने से वे सफलता प्राप्त करती रहीं।

इस अवसर पर महंतश्री नृत्यगोपालदास महाराज ने कहा कि उमाश्री ने अपनी साधना से सारी मंजिलों को प्राप्त कर लिया है। गंगा के बारे में उन्होंने कहा कि गंगा को शुद्ध करने में उमाश्री की रूचि है लेकिन गंगा में जब तक गंदे नाले गिरते रहेंगे और प्रदूषणमुक्त नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि केंद्र में मोदी, यूपी में योगी होने के कारण अब राम मंदिर बनने का समय आ गया है जो भी बाधाएं है वह जल्दी ही दूर होंगी। इस अवसर पर भंडारे में हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। उमाश्री के इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए उनके समर्थक दूर-दूर से शामिल होने आए थे।

उन्होने उपस्थित लोगों से कहा कि मैं आपका मान रखूंगी और मेरी मान प्रतिष्ठा को आप गिरने नहीं देना और कहा कि राममंदिर, गंगा सफाई और सम्मान, गाय-गरीब की रक्षा के लिए सदैव समर्पित रहेंगी।केन्द्रीय मंत्री उमाभारती ने कहा कि आज की राजनीति साजिश और चापलूसी की हो गयी है उन्हें न तो साजिश आती है और वह न ही चापलूसी कर पाती हैं इसलिए इसमें कई बार सामान्जस्य नहीं बना पाई।

Related Posts: