नयी दिल्ली,

केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि सरकार का लक्ष्य देश को विकासशील राष्ट्र की श्रेणी से निकालकर विकसित राष्ट्र बनाने का है।

श्री सिंह ने एक टीवी चैनल के सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि विश्व में देश सबसे तेजी से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था है और इसे विकसित राष्ट्र बनाना लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार समाज के गरीब और अंतिम पायदान के लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए लगातार कदम उठाए रही है।

गृह मंत्री ने कहा कि सरकार ने भ्रष्टाचार को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए हैं और मुझे यह कहते गौरव महसूस होता है कि नरेंद्र मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल में किसी मंत्री पर भ्रष्टाचार का दाग नहीं लगा है।

उन्होंने कहा “यदि गंगोत्री पवित्र है तो गंगा पवित्र रहेगी और यदि गंगोत्री ही पवित्र नहीं होगी तो गंगा पवित्र कैसे रहेगी।” बैंकिंग धोखाधड़ी पर श्री सिंह ने कहा हम पर आरोप लगाये जा रहे हैं कि हमने भगा दिया किन्तु सच्चाई यह नहीं है। इसका पर्दाफाश किया है।

रोजगार पर गृह मंत्री ने कहा कि कोई सरकार यह दावा नहीं कर सकती के सभी पढ़े लिखे लोगों को रोजगार मुहैया करा देगी किन्तु रोजगार के अवसर के लिए कई योजनाएं शुरू की गई हैं।

Related Posts: