मांगें पूरी नहीं होने से नाराज गौसेवकों ने सरकार के खिलाफ फूंका बिगुल

भोपाल,

पंचायत स्तर पर नियुक्ति, निश्चित मानदेय और एबीएफओ की भर्ती में गौ सेवको को 50 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग को लेकर सोमवार को गो सेवकों ने राजधानी भोपाल में प्रदर्शन किया.

अपनी मांगों के समर्थन में गो सेवक नीलम पार्क में एकत्रित होकर मुख्यमंत्री निवास का घेराव करने जा रहे थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें नीलम पार्क में ही रोक दिया. अनुमति नहीं होने की वजह से पुलिस ने गो सेवकों को पार्क के अंदर कर बाहर से लोहे का गेट बंद कर दिया.

पुलिस प्रशासन द्वारा पार्क में बंद किए जाने से नाराज गोसेवकों ने पार्क के अंदर ही सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. गोसेवकों को भीड़ देखते हुए पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए.

पुलिस के आलाअधिकारियों ने संघ नेताओं को सीएम के पास उनका मांग पत्र पहुंचाने का आश्वासन दिया लेकिन संघ के पदाधिकारी नहीं माने.

कांग्रेस की रैली का हवाला देकर पुलिस के अधिकारियों ने उन्हें नीलम पार्क के बजाए शाहजहांनी पार्क में शिफ्ट होने की बात कही. इस पर गो सेवक राजी हो गए. गो सेवक नीलम पार्क से पैदल मार्च और नारेबाजी करते हुए काली मंदिर के पास पहुंचे तब उन्होंने शाहजहानी पार्क में जाने से मना कर दिया.

Related Posts: