बैरुत,

सीरियाई सेना ने दमिश्क के पास गौता इलाके में विद्रोहियों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए जिसमें 94 लोग मारे गए।

सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने एक बयान जारी कर कहा कि गौता इलाकों में सेना के हवाई अौर रॉकेट हमले में 325 लाेग घायल भी हुए हैं। सेना की तरफ से अभी तक इस पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है जबकि दमिश्क सरकार का कहना है कि हमला सिर्फ आतंकवादियों को निशाना बनाकर किया गया था।

सीरिया की मीडिया ने कहा कि विद्रोहियो ने दमिश्क जिले में हमला किया जिसमे एक बच्चे की मौत हो गई और अाठ अन्य घायल हो गए। समाचार एजेंसी सना के अनुसार सेना और उसकी सहयोगी सेनाओं ने भी इस क्षेत्र में आतंकवादियों को निशाना बनाकर जवाबी हमले किये।

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि 2013 के बाद से सरकारी उपग्रह कस्बा और खेतों में लगभग 400,000 लोग रह रहे हैं। सीरिया संकट के लिए यूएन के क्षेत्रीय समन्वयक पैनस मौमटजिस ने कहा कि सोमवार को कम से कम 40 नागरिकों की मौत हो गई और 150 से ज्यादा घायल हो गए।

उन्होंने एक बयान में कहा,“ पूर्वी गौता में नागरिकों की मानवीय स्थिति नियंत्रण से बाहर होती जा रही है। कई लोग अपने बच्चों के साथ बेसमेंट और भूमिगत बंकरों में आश्रय ले रहे हैं।” हमौरिया शहर में भी कई हमले किये गये जिसमें 20 लोगों की मौत हो गई।

Related Posts: