लंदन,

सीरिया के हवाई ठिकाने पर हुए हमले में ईरान के सात सैनिकों की मौत हो गयी है। ईरान की समाचार एजेंसी तसनीम ने यह जानकारी दी।

समाचार एजेंसी के अनुसार, सीरिया सरकार और उसके सहयोगी ईरान ने इजरायल पर हमले को अंजाम देने का आरोप लगाया है। यह हमला कल सीरिया के होम्स शहर के तियास एयरबेस के टर्मिनल चार पर हुआ। इजरायल ने अभी तक न तो इस हमले को अंजाम देने से इन्कार किया है और न ही इसकी पुष्टि की है।

ईरान के सैन्य सलाहकार के अनुसार मारे गये सभी लोग ईरानी सैनिक हैं और उनकी अंत्येष्टि के लिए वापस ईरान ले जाया जाएगा। पहले ईरान के मीडिया ने केवल चार सैनिकों की मौत होने की जानकारी दी थी।

सीरिया के हवाई ठिकाने पर यह हमला अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की उस चेतावनी के बाद अंजाम दिया गया जिसमें उन्होंने सीरिया के विरोधियों के कब्जे वाले दोउमा शहर में हुए रासायनिक हमले के लिए भारी कीमत चुकाने की बात कही थी।

सीरिया की बशर अल-असद सरकार ने भी इस हमले में हाथ होने से इंकार किया है।

ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ ने आज ब्राजील में कहा, “ऐसा प्रतीत होता है कि अमेरिका सैन्य हस्तक्षेप के लिए बहाना ढूंढ रहा है।” उन्होंने कहा, “रासायनिक हथियारों पर ईरान का रूख साफ है। हम किसी पर भी रासायनिक हमला करने की कड़ी निंदा करते हैं।”