सुसाइड नोट की पुलिस कर रही जांच

सुसाइड नोट में किया खुलासा, परेशान कर रहे हैं कर्ज देने वाले

नवभारत न्यूज
भोपाल,

अशोका गार्डन थाना अंतर्गत मयूर बिहार ने रहने वाले एक युवक ने फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली. युवक ने कुछ लोगों से कर्ज ले रखा था, जिससे लोग उसे परेशान कर रहे थे. मृतक ने बाकायदा सुसाइड नोट में इसका उल्लेख किया है. पुलिस का कहना है कि मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है.

अशोका गार्डन थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मृतक मनोज सरदेनी उम्र 29 वर्ष सपरिवार मयूर बिहार कॉलोनी में रहता था. उसकी शादी वर्ष 2013 में हुई थी, मृतक को एक साल की बेटी भी है. मनोज प्रभात चौराहे स्थित सिल्वर हिल्स होटल में काम करता था.

बुधवार सुबह जब मृतक की पत्नी अपने मायके गई हुई थी, वहीं माता पिता दूसरे कमरे में थे, मृतक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. जब मां कमरे में गई तो उसने यह देखा तो फिर अन्य को बुलाया. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतरवारकर पीएम के लिए भिजवाया.

मृतक की मां मीरा ने बताया कि बुधवार सुबह रोजाना की तरह मनोज 7 बजे होटल से लौटा और अपने कमरे में जाकर सो गया. लगभग 10 बजे मैं उसे चाय-नाश्ते के लिए बुलाने के लिए उसके कमरे में गई थी. काफी देर तक आवाज दी, लेकिन उसने दरवाजा नहीं खोला.

खिड़की से देखा तो मनोज फांसी के फंदे पर झूल रहा था. मां ने बताय कि मनोज पिछले कुछ दिनों से परेशान चल रहा था. उसके मोबाइल पर कोई बार-बार कॉल करके उसे धमकियां दे रहा था.

मर्जी से कर रहा हूं खुदकुशी

मृतक के पास से जो सुसाइड नोट मिला है उसमें लिखा है कि वह मौलाना जुबेर से परेशान हो गया है. इसके चलते वह अपनी मर्जी से खुदकुशी कर रहा है. पुलिस का कहना है कि सामने आया है कि वह सूदखोरों से काफी परेशान था. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

Related Posts: