भोपाल की बारी नं. 1 की तैयारी के गूंजे नारे

भोपाल,

स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत स्वच्छ सर्वेक्षण में भोपाल शहर को प्रथम स्थान पर लाने हेतु शहर के नागरिकों को स्वच्छता के प्रति जागरुक करने व साफ-सफाई कार्य में नागरिकों के सक्रिय सहयोग हेतु महापौर आलोक शर्मा द्वारा समाज के विभिन्न वर्गों के माध्यम से जनजागरुकता अभियान निरंतर चलाया जा रहा है.

इसी तारतम्य में स्थानीय तात्या टोपे नगर स्टेडियम पर स्कूली विद्यार्थियों की स्वच्छता जागरुकता रैली का आयोजन किया गया. रैली का शुभारंभ महापौर श्री आलोक शर्मा ने निगम परिषद अध्यक्ष श्री सुरजीत सिंह चौहान की उपस्थिति में हरी झंडी दिखाकर किया.

यह रैली टी.टी. नगर थाना, न्यू मार्केट, समता चौक, रंगमहल, काटजू हॉस्पिटल होते हुए तात्या टोपे नगर स्टेडियम पर संपन्न हुई. 1000 विद्यार्थियों ने ‘भोपाल की बारी नंबर-वन की तैयारी’ के नारों को बुलंद करते हुए नागरिकों एवं व्यवसायियों को स्वच्छता के संदेश दिए.

स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 में भोपाल को नंबर-वन शहर बनाने में शहर के नागरिकों के सक्रिय सहयोग हेतु नागरिकों को प्रेरित करने के दृष्टिगत मंगलवार को तात्या टोपे नगर स्टेडियम पर स्वच्छता जागरुकता रैली का आयोजन किया गया.

कार्यक्रम में महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि हमारा भोपाल अत्यंत सुंदर शहर है और नगर सरकार इसे और सुंदर, स्वच्छ और विकसित शहर बनाने हेतु नगर सरकार निरंतर कार्य कर रही है.

उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शहरों की उन्नति के लिए शहरों को साफ-स्वच्छ बनाने के दृष्टिगत स्वच्छ भारत अभियान प्रारंभ किया और इस अभियान के तहत स्वच्छ शहरों की एक प्रतिस्पर्धा भी रखी जिसमें गत वर्ष स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 में अपना शहर दूसरे नंबर पर आया, परंतु अब हमें अपने शहर को नंबर एक पर लाना है.

गत वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष हमारा मुकाबला पांच सौ शहरों से नहीं, बल्कि चार हजार बयालीस शहरों से है और लगभग 23 लाख आबादी वाले अपने शहर में निगम के केवल 6 हजार सफाई कर्मचारी साफ-सफाई करते हैं. ऐसी स्थिति में हम सब शहर के नागरिकों को स्वच्छता में सहयोग करना है.

Related Posts: