arunनोएडा,  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने स्टैंडअप इंडिया स्कीम को पिछड़े और कमजोर वर्ग के लोगों और महिलाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने वाला सशक्त माध्यम बताया और कहा कि स्कीम के जरिये इन वर्गों से ढाई लाख उद्यमी तैयार होंगे।

श्री जेटली ने आज यहां स्टैंडअप इंडिया के शुभारंभ के मौके पर कहा, “अनुसूचित जाति, जनजाति और महिलाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू की जा रही यह योजना देश में सामाजिक बदलाव का कारक बनेगी। इसके जरिये इस वर्ग के लोग खुद का कारोबार शुरू कर सकेंगे।

 

Related Posts:

कांग्रेस-तृणमूल में ठनी
ओह माई गॉड का निर्माण पैसा कमाने के लिए नहीं किया: अक्षय
गतिमान एक्सप्रेस वापसी में भी सौ मिनट में पहुंची निजामुद्दीन
नेताजी सपा उम्मीदवारों के पक्ष में करेंगे प्रचार : अखिलेश
लाेकतंत्र नेहरू की देन नहीं, हजारों साल से है इसकी परंपरा: मोदी
सोनिया ने जनता दरबार में सुनी लोगों की समस्यायें