जोहानसबर्ग/नयी दिल्ली,

बॉल टेम्परिंग के दोषी पाये गये आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया(सीए) ने बुधवार को 12-12 महीने का प्रतिबंध लगा दिया और सीए के इस फैसले के कुछ घंटे बाद ही भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(बीसीसीआई) ने भी कड़ा कदम उठाते हुये दोनों खिलाड़ियों को आईपीएल 2018 से बाहर कर दिया।

सीए ने स्मिथ और वार्नर पर 12 महीने का प्रतिबंध लगाने के अलावा बॉल टेम्परिंग के दोषी तीसरे खिलाड़ी कैमरन बेनक्राफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया है। सीए के मुख्य कार्यकारी जेम्स सदरलैंड ने मंगलवार को इन तीनों खिलाड़ियों को स्वदेश वापसी का फरमान सुना दिया था और उसके 24 घंटे के भीतर इन तीनों खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा दिये गये।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया के इस फैसले की गूंज भारत में भी सुनाई दी अौर बीसीसीआई ने त्वरित कार्रवाई करते हुये स्मिथ और वार्नर को आईपीएल के 11वें संस्करण से प्रतिबंधित कर दिया।

स्मिथ को पहले उनकी राजस्थान रॉयल्स टीम ने कप्तानी से हटाया था और वार्नर भी सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी से हट गये थे। हालांकि दोनों खिलाड़ियों को आईपीएल टीमों की कप्तानी छोड़ने का कोई फायदा नहीं हुआ क्योंकि बीसीसीआई ने उन्हें इस टूर्नामेट से ही बाहर का रास्ता दिखा दिया।

राजस्थान और हैदराबाद ने इन दोनों खिलाड़ियों को 12-12 करोड़ रूपये में रिटेन किया था और 11वें संस्करण के लिये अपनी टीमों का कप्तान बनाया था। राजस्थान ने स्मिथ के कप्तानी से हटने के बाद अजिंक्या रहाणे को नया कप्तान बनाया है। दोनों टीमों ने अभी तक इन दोनों आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के वैकल्पिक नामों की घोषणा नहीं की है।

Related Posts: