कोलारस विवाद पर विधायक ने दी सफाई

नवभारत न्यूज भिण्ड,

बीते रोज कोलारस उपचुनाव के दौरान भिण्ड से भाजपा विधायक नरेन्द्रसिंह कुशवाह द्वारा क्षेत्र में पैसे बांटने के कांग्रेस पार्टी के आरोप के जबाब में श्री कुशवाह ने शहर के सर्किट हाऊस पर पत्रकार वार्ता में अपनी सफाई दी। जहां उन्होने कांग्रेस के आरोपों को निराधार बताते हुए इसे उप चुनाव में कांग्रेसियों की हार की हताशा बताया।

सर्किट हाउस पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए नरेन्द्र सिंह ने कहा कि शिवपुरी जिले की कोलारस विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा द्वारा उन्हें प्रचार की जिम्मेदारी दी गई थी।

जिसके तहत वह प्रचार करने पहुंचे थे। बीते रोज चुनाव तिथि के 48 घण्टे पहले चुनाव प्रचार थमने पर वह ग्वालियर की ओर आ रहे थे। इसी दौरान खरौदा गांव के पास कांग्रेस प्रत्याशी महेन्द्र यादव ने अपने समर्थकों के साथ उनके वाहन को घेर लिया। यहां असमाजिक तत्वों के साथ पहुंचे कांग्रेस प्रत्याशी ने उनके वाहन में तोडफ़ोड़ कर उन पर पैसे बांटने का आरोप लगाया।

जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने उनके वाहन एवं उसमें रखे सामान की तलाशी ली। लेकिन उसमें कोई संदेही वस्तु नही मिली। इस बात से हताश हुए महेन्द्र यादव व उनके समर्थक विवाद करते हुए पथराव करने लगे।

इस दौरान उत्पातियों द्वारा उनके वाहन चालक सौरभ जैन के साथ मारपीट भी कर दी। यहां उन्होने कहा कि उनके द्वारा आचार संहिता का किसी भी प्रकार से उल्लंघन नही किया गया, बल्कि कांग्रेसी खुद आचार संहिता का माखौल उड़ा कर उनके ऊपर झूठे आरोप लगा रहे हैं।

थाने में दर्ज कराई शिकायत

चर्चा के दौरान श्री कुशवाह ने बताया कि पथराव व चालक के साथ मारपीट की घटना के बाद बड़ी मुश्किल से पुलिसकर्मियों ने उन्हें वहां से निकाला। जिसके बाद सीधे कोलारस पुलिस थाने पहुंचे और अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी शिवपुरी एसपी को दी। जिसके बाद वाहन चालक सौरभ जैन की शिकायत पर पुलिस ने महेन्द्र यादव समेत कई लोगों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज किया।

उन्होने कहा कि कोलारस व मुंगावली उप चुनाव में वहां की जनता विकास का साथ देते हुए भाजपा के पक्ष में मन बना चुकी है। जिससे हताश होकर कांग्रेस नेता विवाद पर उतर आए हैं। जिसके चलते वह कही विवाद कर रहे है तो कही भाजपा पर झूठे आरोप लगा रहे हैं।

Related Posts: