डिलेवरी के दौरान हुई थी पहचान

भोपाल,

टीटी नगर थाना इलाके में डॉक्टर द्वारा विवाहिता से दो साल से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है.पीडि़ता ने सोमवार को थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने विवाहिता की शिकायत पर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक बाणगंगा टीटीनगर में रहने वाली 26 वर्षीय एक विवाहिता ने सोमवार को थाने में शिकायत में बताया कि वह गृहिणी है. 2015 में उसकी डिलेवरी आस्था अस्पताल में हुई थी. उसका इलाज डॉक्टर मुकेश नागर के द्वारा किया गया था.

डिलेवरी के दौरान ही उसकी पहचान डॉक्टर नागर से हो गई थी, जिसके बाद वे संपर्क में थे. डिलेवरी के बाद अक्सर दवाईयां लेने के लिए भी विवाहिता डॉक्टर के पास जाती थी, इससे दोनों में अच्छी जान पहचान हो गई थी और डॉक्टर विवाहिता के घर आने लगा था.

इसी बीच डॉक्टर ने 1 जनवरी 2015 को विवाहिता के साथ जबरदस्ती डरा धमकाकर दुष्कर्म किया और इसके बाद से वह जब भी मौका मिलता तब बदनाम करने की धमकी देकर ज्यादती करता था.पीडि़ता ने कहा कि उसने कई बार डॉक्टर को समझाया लेकिन वह नहीं मान रहा था. पुलिस ने मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है.

जीजा के भाई ने किया साली से दुष्कर्म

गुना की रहने वाली युवती को शादी का झांसा देकर आठ माह तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. हनुमानगंज पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस को सामने आया है कि आरोपी ने पीडि़ता और घर वालों को बिना बताए किसी दूसरी युवती से प्रेम विवाह कर लिया था, जब पीडि़ता ने शादी के लिए दबाव डाला तो वह मुकर गया.

पीडि़ता ने थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया. हनुमानगंज पुलिस के मुताबिक 20 वर्षीय युवती मकसूदनगढ़ की रहने वाली है. युवती बड़ी बहन की ननद की शादी समारोह में शामिल होने भोपाल आई थी, तभी घर वालों ने बड़ी बहन के देवर राकेश सोनी से उसकी सगाई पक्की कर दी.

युवती जब जनवरी 2017 में भोपाल आई तो आरोपी ने नादरा बस स्टैंड स्थित एक होटल में उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद आरोपी विगत आठ माह तक उसके साथ ज्यादती करता रहा.

Related Posts: