राजगढ़ 9 दिसम्बर, नससे. जिला चिकित्सालय में नसबंदी आपरेशन के बाद एक महिला की मौत होने की घटना सामने आई है. परिजनों ने गलत तरीके से नसबंदी के चलते मौत होने का आरोप लगाया है. जिला प्रशासन ने पीडि़त परिजनों को 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देते हुए जिला कलेक्टर द्वारा महिला की मौत पर जांच दल गठित किया है.

जानकारी के अनुसार ग्राम गोलाखेड़ा निवासी श्रीमती दरियावबाई पत्नि मोरसिंह तंवर उम्र 24 वर्ष की बुधवार को जिला चिकित्सालय में नसबंदी हुई थी. जिसके बाद महिला को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. परिजन महिला को लेकर गांव चले गये किंतु गुरुवार शाम को एकाएक महिला को पेट में दर्द होने पर परिजन महिला को लेकर तुरंत जिला चिकित्सालय लाये. जहां शुक्रवार को महिला ने दम तोड़ दिया. जांच हेतु टीम गठित- महिला के परिजनों द्वारा नसबंदी आपेरशन के दौरान लापरवाही के चलते महिला की मौत होने का आरोप लगाते हुए अपनी शिकायत दर्ज कराई है. जिला कलेक्टर एम.बी.ओझा ने तीन चिकित्सकों की टीम गठित कर मामले की उचित जांच के निर्देश दिये है. पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है. इस मामले में नसबंदी के आंकड़े बढ़ाने के कारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जाने वाली जल्दबाजी तथा महिलाओं को ऑपरेशन के बाद बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत नहीं कराना एवं महिलाओं द्वारा भी असावधानी रखना भी इस प्रकार की घटनाओं को अंजाम दे देता है.

Related Posts: