भोपाल, 15 दिसम्बर. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका एकता यूनियन मध्यप्रदेश सीटू के आहृवान पर विभिन्न मांगों को लेकर प्रदेश भर के सम्भागीय मुख्यालयों में आंगनवाड़ी कर्मियों ने 24 घंटे की भूख हड़ताल कर मुख्यमंत्री के नाम अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा.

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता केन्द्र सरकार द्वारा 9 मांह पहले बढ़ाए गये मान देय के एरियर सहित भुगतान, राज्य सरकार द्वारा अपने हिस्से वाले मानदेय को बढ़ाने, 3 वर्ष की युनीफार्म की राशि का भुगतान देने, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को शासकीय कर्मचारी की मान्यता देने, सेवा समाप्ति की आयु 60 वर्ष करने, पेंशन तथा ग्रेज्युटी देने, आंगनवाड़ी भवन के किराये बढ़ाने, आंगनवाड़ी कर्मियों को अन्य विभागों के कार्य तथा सर्वे से मुक्त रखने की मांग कर रहे है. यूनियन की प्रदेश कोषाध्यक्ष हाजरा काजमी ने राज्य सरकार को आगाह किया है कि समय रहते मांगों का निराकर नहीं किया गया तो आगामी फरवरी के प्रथम सप्ताह में पूरे प्रदेश की आंगनवाड़ी कर्मी राजधानी आकर राज्यव्यापी प्रदर्शन करने को मजबूर हो जायेंगे. यादगार-ए-शाहजहांनी पार्क में भूख हड़ताल के समापन पर भोपाल डिवीजन इन्श्योरैन्स एम्पलाईज युनियन की ओर से सभी भूख हड़तालियों का जूस पिलाकर आंदोलन का समर्थन व्यक्त किया. सभा के बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं सहायिकाओं ने जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को अपनी मागों का ज्ञापन सौंपा.

Related Posts: