अनशन के दौरान अन्ना की तबियत बिगड़ी 102 डिग्री बुखार चढ़ा

मुंबई, 27 दिसंबर. मजबूत जनलोकपाल बिल के लिए अनशन पर बैठे अन्ना हजारे की तबियत फिर से खराब हो गई है. अन्ना फिलहाल मंच पर नहीं हैं लेकिन उनका अनशन जारी है.

अन्ना शाम से ही मंच पर नहीं है. रात आठ बजे के करीब अन्ना की तबियत एक बार फिर खराब हो गई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने भी अन्ना से अनशन समाप्त करने के लिए कहा है लेकिन वो जिद पर अड़े हैं. अन्ना को अस्पताल में शिफ्ट करने के लिए एंबुलेंस भी धरना स्थल पर पहुंच गई है. डॉ. अन्ना को अस्पताल ले जाना चाहते हैं लेकिन अन्ना किसी की भी सुनने को तैयार नहीं है. सरकार की ओर से जेजे अस्पताल के डॉक्टरों की टीम भी अन्ना को देखने पहुंच रही है. अन्ना को किसी भी वक्त अस्पताल में भर्ती कराया जा सकता है. अन्ना को 102 डिग्री बुखार हो गया और रक्तचाप भी बढ़कर 170/96 पहुंच गया है. अन्ना की पल्स रेट भी 98 के करीब है. टीम अन्ना की गुहार के बावजूद अन्ना हजारे अनशन से हटने को तैयार नहीं हैं.

अन्ना की स्वास्थ्य जांच के बाद डॉक्टर ने कहा, अन्ना जी का पल्स रेट बढ़ गया है, पिछले चार दिनों से बीमारी के चलते उनके पेट में कोई खाना नहीं गया है, अन्ना के सीने में भी इंफेक्शन है. अन्ना की सेहत के बारे में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरी टीम अन्ना जी को अनशन तोडऩे के लिए समझा रही है. पूरी टीम उनसे खाना खाकर दवाई लेने का आग्रह कर रही है. अभी भी अन्ना जी को समझाया जा रहा है. आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने भी अन्ना से अनशन तोडऩे की अपील की है. अन्ना ने आज से ही मुंबई में मजबूत लोकपाल की मांग को लेकर अनशन शुरु किया है. इससे पहले अगस्त में अन्ना ने दिल्ली में 12 दिन का अनशन किया था. संसद में अन्ना के स्वास्थ्य पर चुटकी लेते हुए लालू प्रसाद यादव ने आज कहा था कि अन्ना के स्वास्थ्य की चिंता करने के लिए भी एक समीति बननी चाहिए.

Related Posts: