राहुल को निशाना बनाने पर अन्ना को चेतावनी

नई दिल्ली, 12 दिसंबर. कांग्रेस के सांसद पी वी हनुमंत राव ने कहा कि है कि अन्ना राहुल गांधी पर बेवजह हमला बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांघी सरकार में शामिल नहीं है और वह सिर्फ पार्टी के महासचिव है। राव ने कहा कि अन्ना उनपर लगातार हमला कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अन्ना का राहुल गांधी पर लोकपाल बिल को कमजोर किए जाने का आरोप लगाया जाना बेबुनियाद है। इशारों-इशारों में कांग्रेस अन्ना से यह कह रही है कि वह राहुल गांधी पर हमला करने से बाज आएं।

कांग्रेस के खिलाफ राजनीति
अन्ना हजारे पर राशिद अल्वी ने आरोप लगाया कि वह विपक्ष के साथ मिलकर कांग्रेस के खिलाफ राजनीति कर रहे हैं। अल्वी ने सोमवार को कहा कि रविवार को जंतर-मंतर पर जो कुछ भी हुआ वह सब कांग्रेस के खिलाफ की गई राजनीति थी। उनका इशारा साफ था कि अन्ना अनशन के बहाने राजनीति कर रहे हैं जिसमें विपक्ष भी उन्हें समर्थन दे रहा है।

गांधीवादी नहीं
अल्वी के बाद कांग्रेस के नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने अन्ना पर हमला बोला। उन्होंने अन्ना पर प्रहार करते हुए उनके गांधीवादी होने पर सवाल उठाया और पूछा कि क्या वह राजा हरिश्चंद्र हैं ? उ.प्र. आएंगे तो देख लेंगे सरकार के केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता बेनी प्रसाद वर्मा ने अन्ना पर आरोप लगाया कि वह विपक्ष के नेता बन बैठे हैं। बेनी प्रसाद ने अन्ना पर आरोप लगाया कि वह संघ के एजेंट हैं। अन्ना के आंदोलन को विपक्ष का पूरा समर्थन मिल रहा है। कांग्रेस नेता बेनी प्रसाद वर्मा ने अन्ना हजारे को चुनौती दी है। उन्होंने अन्ना को विपक्ष का प्रवक्ता बताया। साथ ही ये भी कहा कि अन्ना उत्तर प्रदेश आएंगे तो उन्हें देख लेंगे। बेनी प्रसाद ने अन्ना को चुनौती देते हुए कहा है कि अन्ना में अगर हिम्मत है तो यूपी में आकर दिखाएं। बेनी यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि आरएसएस उन्हें मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रहा है।

कैबिनेट में होगी लोकपाल पर चर्चा
इधर केंद्रीय कानून मंत्री सलमान खुर्शीद का कहना है कि प्रधानमंत्री को लोकपाल के दायरे में लाने के लिए कैबिनेट में चर्चा होगी। हालांकि पार्टी के नेताओं ने अब सीधे तौर पर गांधीवादी नेता अन्ना हजारे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस ने अन्ना पर आरोप लगाया कि वह संसद का अपमान कर रहे हैं और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व पार्टी महासचिव राहुल गांधी पर हमला कर राजनीति कर रहे हैं।

राष्ट्र के लिए बलिदान को तैयार युवा
समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा कि देश में कई क्षेत्रों में सुधार की जरूरत है। युवा राष्ट्र के लिए जीवन का बलिदान करने को तैयार हैं। गाजियाबाद में अन्ना हजारे ने कहा, बहुत से सुधार किए जाने की जरूरत है। हमें विकास का काम जारी रखना होगा। साथ ही हमें भ्रष्टाचार पर भी नियंत्रण रखना होगा। बड़ी संख्या में युवा भ्रष्टाचार के खिलाफ काम करने के लिए सामने आ रहे हैं। ऐसे भी युवा हैं, जो कहते हैं कि उन्होंने अपना जीवन राष्ट्र को समर्पित कर दिया है और वे विवाह नहीं करना चाहते। ऐसे युवाओं को महाराष्ट्र स्थित उनके गांव रालेगण सिद्धि में प्रशिक्षित किया जाएगा।

एड्स की सुइयां चुभोने की धमकी

अन्ना हजारे की सुरक्षा को लेकर पुलिस के पसीने छूटे हुए हैं. राजधानी दिल्ली के एक गुमनाम ग्रुप ने पुलिस को पर्चे भेज कर अन्ना को एड्स की सुइयां चुभाने की धमकी दी है. लिहाजा, पुलिस ने अन्ना की सुरक्षा और भी कड़ी कर दी है. इसका नजारा रविवार की सुबह राजघाट पर देखने को मिला. इतनी सख्ती की वजह पूछने पर मौजूद पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनके पास शनिवार रात अन्ना के विरोध में पर्चे आए हैं. इन पर्चों को भेजने वालों ने दावा किया है कि उन्होंने एड्स के इन्फेक्शन वाली सुइयां तैयार कर रखी हैं. जो अन्ना और उनके समर्थकों को लगा दी जाएंगी. हालांकि, पुलिस अधिकारी ने इस ग्रुप के बारे में कोई डीटेल नहीं दी और अपनी जांच को मजबूती से जारी रखा.

Related Posts:

शा. चिकित्सा महाविद्यालयों के लिये 81 करोड़ की परियोजना
परिषद की बैठक में पार्षद निधि कम करने का विरोध छाया
महिलाओं बुजुर्गो का ध्यान
बिहार में हार के बाद पहली बार मोदी के संबोधन पर सबकी निगाहें
18 नवम्बर से मात्र दो हजार रुपये के बदल पायेंगे पुराने 500 और 1000 रुपये के नोट
प्रणव ,मोदी और महाजन ने दी देशवासियों को ईद की बधाई