भारत-न्यूजीलैण्ड पहला टेस्ट मैच, दूसरा दिन

हैदराबाद, 24 अगस्त. चेतेश्वर पुजारा 159 की सर्वश्रेष्ठ पारी और कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी 73 के शानदार अर्धशतक के बाद आफ स्पिनर रविचंद्रन आश्विन और लेफ्ट आर्म स्पिनर प्रज्ञान ओझा की उंगलियों के कमाल से भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन आज यहां अपनी स्थिति मजबूत कर ली.

भारत ने 438 रन का मजबूत स्कोर बनाने के बाद अपने स्पिन गेंदबाजों के दम पर न्यूजीलैंड को पहली पारी में झकझोरते हुए दिन की समाप्ति तक उसका स्कोर पांच विकेट पर 106 रन कर दिया. न्यूजीलैंड अभी भारत के स्कोर से 332 रन पीछे है और उस पर फालोआन का खतरा मंडरा रहा है. भारतीय पारी में शानदार 37 रन बनाने वाले आश्विन ने गेंदबाजी में भी तगड़े हाथ दिखाते हुए 14 ओवर में 30 रन देकर तीन कीवी बल्लेबाजों को पैवेलियन का रास्ता दिखा दिया, जबकि ओझा ने 15 ओवर में 35 रन देकर दो विकेट झटके.

राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में दो वर्ष पहले दोहरा शतक बनाने वाले ब्रैंडन मैकुलम 22 को लेफ्ट आर्म स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने विराट कोहली के हाथों कवर में लपकवा दिया. न्यूजीलैंड का पहला विकेट 25 के स्कोर पर गिरा. लेकिन इसके बाद अश्विन ने 30 रन के अंतराल में न्यूजीलैंड के तीन विकेट झटक लिए. आश्विन ने मार्टिन गुप्तिल 2 और फिर कप्तान रोस टेलर 2 को बैकवर्ड शार्ट लेग पर कोहली के हाथों कैच करा दिया. हालांकि टेलर के मामले में अंपायर ने कुछ रिप्ले का सहारा लेने के बाद कीवी कप्तान को आउट घोषित किया. आश्विन ने इसके बाद डेनियल फ्लिन 16 को पगबाधा कर न्यूजीलैंड को चौथा झटका दे दिया. न्यूजीलैंड के चार विकेट 19वें ओवर तक पहुंचते-पहुंचते 55 रन तक गिर चुके थे. केन विलियम्सन 32 और जेम्स फ्रेंकलिन नाबाद 3 ने पांचवें विकेट के लिए 44 रन की साझेदारी कर स्थिति को संभालने की कोशिश की लेकिन ओझा ने दिन की समाप्ति से कुछ पहले विलियम्सन को स्लिप में वीरेन्द्र सहवाग के हाथों कैच कराकर भारत को ड्राइविंग सीट पर पहुंचा दिया.

स्टंप्स के समय फ्रेंकलिन के साथ विकेटकीपर क्रूगर वान विक खाता खोले बिना क्रीज पर थे. विलियम्सन ने 92 गेंदों पर 32 रन की पारी में तीन चौके लगाए जबकि फ्रेंकलिन नाबाद 31 रनों के लिए 75 गेंदें खेली हैं और अपनी पारी में एक चौका तथा एक छक्का लगाया है.
भारत ने कल के स्कोर पांच विकेट पर 307 रन से आगे खेलना शुरु किया और उसकी पहली पारी चायकाल से पहले 438 रन पर सिमट गयी. पुजारा ने 119 रन और धोनी ने 29 रन से अपनी पारी को आगे बढाया. अपने कैरियर का पहला शतक कल पूरा कल चुके पुजारा आखिरी 159 रन बनाकर आउट हुए.

पुजारा ने 306 गेंदों का सामना किया और अपनी बेहतरीन शतकीय पारी में 19 चौके और एक छक्का लगाया. कप्तान धोनी अपने कैरियर का 25वां अर्धशतक पूरा करने के बाद 73 रन बनाकर आउट हुए. आश्विन ने 54 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 37 रन का योगदान दिया.  भारत ने लंच तक पांच विकेट पर 371 रन बनाए थे. तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे पुजारा छठे विकेट के रूप में टीम के 387 रन के स्कोर पर आउट हुए. उन्हें आफ स्पिनर जीतन पटेल ने मिड आफ में जेम्स फ्रेंकलिन के हाथों कैच कराया. पुजारा और धोनी ने छठे विकेट के लिए 127 रन की साझेदारी की लेकिन इसके बाद भारत ने 51 रन जोडकर अपने सभी विकेट गंवा दिए.

कप्तान धोनी 147 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 73 रन बनाकर आउट हुए. उनका विकेट भी पटेल के खाते में गया. जहीर खान अपना खाता भी नहीं खोल सके जबकि उमेश यादव ने चार रन बनाए. प्रज्ञान ओझा चार रन बनाकर नाबाद रहे. न्यूजीलैंड की तरफ से पटेल ने 41 ओवर में 100 रन देकर चार विकेट चटकाए जबकि तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट के खाते में तीन विकेट आए. क्रिस मार्टिन और डग ब्रेसवैल ने 1-1 विकेट साझा किए.

Related Posts: