टीम अन्ना ने लिखी प्रधानमंत्री को चिट्ठी

नई दिल्ली, 25 दिसंबर. समाजसेवी अन्ना हजारे के सहयोगियों ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तथा सांसदों को पत्र लिख कर उनसे भ्रष्टाचार के खिलाफ ‘वास्तविक कानून’ बनाने की अपील की है. पत्र में अन्ना के सहयोगियों ने कहा है कि वे चाहते हैं कि संसद में चर्चा से जहां तक सम्भव हो सके, अच्छा कानून सामने आए.

इंडिया अगेंस्ट करप्शन ने कहा है कि संसद में पेश मौजूदा विधेयक के कुछ प्रावधानों पर उनका विरोध बरकरार है, लेकिन वे चाहते हैं कि सांसद उनके कुछ मुद्दों को भी विधेयक में शामिल करें. उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि लोकपाल तथा लोकायुक्त को किसी की शिकायत के बगैर ही स्वत: संज्ञान के आधार पर किसी भी मामले की जांच का अधिकार हो. पत्र में कहा गया है, ‘हम संसद से अपील करते हैं कि वह हमारे कुछ मुद्दों पर भी विचार करे और देश को भ्रष्टाचार के खिलाफ एक प्रभावी कानून दे. मौजूदा विधेयक के कई प्रावधानों को लेकर हमारा विरोध जारी रहेगा. हम इसके खिलाफ महीनों, वर्षों तक संघर्ष करते रहेंगे.

चुनाव आयोग भी रखेगा टीम अन्ना पर नजर

नई दिल्ली. मुख्य निर्वाचन आयुक्त एस. वाई. कुरैशी ने रविवार को कहा कि पांच राज्यों में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के दौरान समाजसेवी अन्ना हजारे के सहयोगियों की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी. एक पार्टी विशेष के खिलाफ अभियान का मुद्दा औचित्य का मुद्दा बन सकता है. कुरैशी ने कहा टीम अन्ना पर उसी तरह नजर रखी जाएगी जैसे किसी भी अन्य व्यक्ति पर. अब तक उन्होंने चुनाव सम्बंधी किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया है. उन्होंने यह नहीं कहा है कि एक्स  पार्टी के बजाय वाई को वोट दें. उन्होंने केवल यह कहा है कि वे एक विशेष पार्टी का बहिष्कार करेंगे. उन्होंने हालांकि किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया है, लेकिन हमने उन्हें बताया है कि उनके खिलाफ औचित्य का मामला बन सकता है.

हार के डर से आपा खो चुकी है कांग्रेस

भाजपा ने समाजसेवी अन्ना हजारे को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एजेन्ट बताने के लिए कांग्रेस की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव में हार के डर से कांग्रेस आपा खो चुकी है. पार्टी प्रवक्ता प्रकाश जावडेकर ने कांग्रेस के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव में हार के डर से कांग्रेस बौखला गई है. उन्होंने कहा कि इस बौखलाहट में पार्टी आपे से बाहर हो गई है और अनाप शनाप बयान दे रही है. उन्होंने कहा कि इन अनर्गल बातों का जवाब दिये जाने की जरूरत नहीं है.

Related Posts: