बाबूलाल गौर ने  किया तालाब का निरीक्षण

भोपाल, 15 मई नभासं. भोपाल का बड़ा तालाब भारत की सबसे खूबसूरत झील बने. इसमें आम नागरिक भी सहयोग करें. नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री  बाबूलाल गौर ने आज बड़े तालाब स्थित बोट-क्लब के निरीक्षण में यह बात कही. गौर ने मध्यप्रदेश पर्यटन निगम द्वारा संचालित क्रूज में बड़े तालाब की सैर भी की.

उन्होंने क्रूज से राजा भोज प्रतिमा-स्थल एवं खानूगाँव को देखा. गौर ने बड़े तालाब के किनारों एवं उसके आसपास स्थित भवनों को सजाने के निर्देश दिये. उन्होंने बोट-क्लब की पार्किंग को व्यवस्थित और सुंदर बनाने की बात कही. नगरीय प्रशासन मंत्री ने कहा कि श्यामला पहाड़ी पर स्थित बारादरी को पर्यटकों के लिये खोलने के प्रयास किये जायेंगे. उन्होंने पुराने याट-क्लब के नवीनीकरण का कार्य शीघ्र प्रारंभ करने, वोट-क्लब पर स्थापित युद्धपोत शिवालिक के मॉडल-स्थल पर आवश्यक व्यवस्थाएँ करने और स्टीम इंजिन की स्थापना के लिये बनवाये जा रहे प्लेटफार्म का कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश भी दिये.

मध्यप्रदेश पर्यटन निगम के महाप्रबंधक मुकेश कपूर ने बतलाया कि निगम बोट-क्लब से भारत भवन तक आकर्षक प्रकाश की व्यवस्था के साथ-साथ, मुख्यमंत्री निवास के नीचे वाले पाथ-वे के ऊपर ‘वेलकम टू दि सिटी ऑफ लेक्स’ का न्योन शाइन लगवाएगा, जो व्ही.आई.पी. रोड से आकर्षक लगेगा. पुराने याट-क्लब के नवीनीकरण की आवश्यक कार्रवाई जारी है. रेलवे के ए.डी.एम.ई. बी.पी. सिंह ने बताया कि प्लेटफार्म तैयार होते ही पुराना स्टीम इंजिन शीघ्र स्थापित किया जायेगा.

निगम ला रहा हनीमून पैकेज

मध्यप्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम ने पचमढ़ी तथा खजुराहो जैसे सुंदर एवं प्राकृतिक पर्यटन स्थलों को हनीमून डेस्टीनेशन के रूप में बढ़ावा देने के उद्देश्य से विशेष रियायत के साथ हनीमून पैकेज तैयार किये हैं.  मप्र प्रथम राज्य है जिसने कारवां पर्यटन को बढ़ावा देने और इसी श्रंृखला में पी.पी.पी मॉडल के अन्तर्गत निजी निवेशकों को भी आमंत्रित किया है. पर्यटन की दृष्टि से प्रदेश के सभी मुख्य राजमार्गों पर सड़क से यात्रा करने वाले पर्यटकों को सुविधायें प्रदाय कराने के उद्देश्य से 268 स्थलों पर मार्ग सुविधायें उपलब्ध कराया जाना प्रस्तावित है. अगले वर्ष अन्य 45 मार्ग सुविधाओं के निर्माण किये जाने की सैद्धांतिक स्वीकृति प्राप्त की जा चुकी है. देशी तथा विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिये मार्केटिंग के क्षेत्र में विशेष योजनायें बनायी गयी है जिनमें मुख्यत: विदेशों में रोड़ शो करने तथा विभिन्न भाषाओं के पत्र-पत्रिकाओं में विज्ञापन के माध्यम से मध्यप्रदेश में पर्यटन की असीम संभावनाओं को प्रदर्शित  किया जायेगा.

Related Posts: