नई दिल्ली, 21 दिसंबर, उत्तरप्रदेश चुनाव में बेहतर परिणाम के लिए भाजपा अपने सभी दिग्गज उम्मीदवारों की तैयारी करने पर विचार कर रही है. उत्तर प्रदेश में भाजपा उम्मीदवारों की दूसरी सूची में कुछ प्रमुख नेताओं के साथ नए नेताओं के नाम भी जारी किए जा सकते हैं. प्रदेश के वरिष्ठ नेता विनय कटियार पर अभी भी चुनाव लडऩे का दबाव बना हुआ है.

इन नामों को अंतिम रूप देने के लिए पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक 22 दिसंबर को होने की संभावना है. प्रदेश की 403 सदस्यीय विधानसभा के लिए भाजपा ने पहली सूची में 143 उम्मीदवारों के नाम जारी किए थे. इसके बावजूद राज्य की बाकी सीटों के लिए उम्मीदवार तय करने में प्रदेश के नेताओं को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है. प्रदेश के नेता इस बार लगभग दो सौ उम्मीदवारों के सूची जारी करने की कोशिश में है. पहली सूची में प्रदेश के आधा दर्जन बड़े नेताओं को चुनाव मैदान में उतारने के बाद अब पार्टी प्रदेश के अन्य प्रमुख नेताओं पर भी चुनाव लडऩे का दवाब बना रही है. सूत्रों के अनुसार पार्टी पूर्व सांसद अशोक प्रधान, लालजी टंडन के बेटे गोपाल टंडन, राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह के नामों पर भी विचार कर रही है. वरिष्ठ नेता विनय कटियार भले ही चुनाव लडऩे के इच्छुक न हो, लेकिन पार्टी का उन पर दबाव बना हुआ है. अपने प्रतिद्वंदी दलों की तुलना में उम्मीदवार तय करने में काफी पिछड़ चुकी भाजपा फरवरी में चुनावों की संभावना को देखते हुए अब जल्दी से जल्दी अपने उम्मीदवार उतारने की तैयारी में है, ताकि वे अपने क्षेत्रों में पूरी तरह से जुट सकें.

Related Posts: