भीषण गर्मी से बेहाल हुए वन्य प्राणी

भोपाल, 30 मई नभासं. वन विहार नेशनल पार्क में अब पर्यटकों को चीतल, सांभर और नीलगाय के अलावा चौसिंघे भी देखने मिलेंगे. दरअसल वन विहार में बुधवार को छतरपुर से दो मादा चौसिंघा लाई गई हैं. छतरपुर वन मंडल के कर्मचारी उन्हें दोपहर दो बजे वन विहार लेकर पहुंचे. इन्हें फिलहाल विशेष बाड़े में रखा गया है.

वन विहार में अभी केवल दो नर चौसिंघे है. वन विहार के सहायक संचालक डॉ. सुदेश बाघमारे ने बताया कि चौसिंघे धीरे धीरे लुप्त हो रहे हैं.  इन्हें निकट भविष्य में लुप्त होने वाली प्रजाति की श्रेणी में रखा गया है. उनका कहना है कि मादा चौसिंघे पहुंचने से इनकी ब्रीडिंग की जाएगी ताकि वन विहार में इनका परिवार बढ़ सके. श्री बाघमारे ने बताया कि मादा चौसिंघा को छतरपुर के एक घर से छुड़ाया गया है.

प्रबंधन नहीं कर पा रहा उचित व्यवस्था

नेशनल पार्क वन विहार में जानवर गर्मी से बेहाल बताए जा रहे हैं. प्रबंधन की ओर से जानवरों को गर्मी से बचाने के विशेष प्रयास नहीं किए गए. हलाकि प्रबंधन द्वारा जानवारों के लिए कुछ छायादार बेड़ों की व्यवस्था की गई है. लेकिन यह बेड़े भी अपार्यप्त बताए जाते हैं. जानकारी के मुताबिक जानवरों के लिए पानी की विशेष व्यवस्था भी नहीं की गई है. जिससे जानवर पानी के लिए इधर-उधर भटक रहे हैं. जबकि प्रबंधन का दावा है कि जानवारों के लिए छाया-पानी की पर्याप्त व्यवस्था की गई है. लेकिन जानकारी के मुताबिक वन विहार के भीतरी इलाकों में पानी के लिए कोई खास इंतजाम नहीं हैं.

Related Posts: