अभी वेंटीलेटर पर रहेंगे

चेन्नई, 10 अगस्त. केन्द्रीय मंत्री विलासराव देशमुख की हालत स्थिर बनी हुई है. उन्हें अब भी जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है. लीवर और किडनी में तकलीफ के चलते देशमुख को शहर के पेरुमबाकम इलाके में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अस्पताल के एक प्रवक्ता ने बताया कि देशमुख की हालत स्थिर है. उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है. वह अभी वेंटीलेटर पर ही रहेंगे. उनके पुत्र रितेश देशमुख अपने पिता को लीवर दान करने के लिये तैयार हैं लेकिन देशमुख की हालत में सुधार होने पर ही लीवर प्रत्यारोपण के बारे में कोई निर्णय लिया जा सकता है. वहीं विलासराव देशमुख का प्रभार केंद्रीय मंत्री व्यालार रवि को सौंप दिया गया है. सूत्रों के अनुसार देशमुख का कुशलक्षेम जानने के लिए इस बीच कई राजनेता अस्पताल पहुंचे.

उन्होंने देशमुख के बेहतर उपचार के लिए चिकित्सकों से बातचीत भी की. अस्पताल आने वालों में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रमेश चेन्नीताला, द्रविड़ मुनेत्र कषगम द्रमुक के सांसद एमके अलागिरि और नेपेलियन तथा द्रमुक के संसदीय पार्टी नेता टीआर बालू थे. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हान, उप मुख्यमंत्री अजीत पवार और मंत्रिमण्डल के आठ अन्य सदस्यों के साथ अस्पताल पहुंचे थे. तमिलनाडु के राज्यपाल के रोसैया और स्वास्थ्य मंत्री वीएस विजय ने अस्पताल पहुंचकर देशमुख का कुशलक्षेम जाना.

Related Posts: