नमाजियों पर पुष्प वर्षा, गले मिलकर दी मुबारकबाद

भोपाल, 20 अगस्त. ईद-उल-फितर का त्यौहार राजधानी में उत्साहपूर्वक मनाया गया. मुस्लिम नागरिकों ने ईदगाह समेत मस्जिदों में सामूहिक नमाज अदा की और उसके पश्चात गले मिलकर एक-दसरे को ईद की दिली मुबारकबाद दी. सुबह से राजधानी के ईदगाह, ताजुल मसाजिद, जामा मस्जिद, मोती मस्जिद समेत अधिकांश मस्जिदों में ईद की नमाज अदा की गई.

ईदगाह पर कई राजनेताओं एवं प्रमुखजनों ने पहुँचकर मुस्लिम नागरिकों को ईद की मुबारकबाद पेश की. सभी ने एक-दूसरे से गले मिलकर खुशी का इजहार किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा, पूर्व प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष सुरेश पचौरी, अभिनेता रजा मुराद आदि ने नमाजियों पर गुलाब की पंखुडिय़ों की वर्षा की शहर में सुबह से चहल-पहल थी बच्चों एवं नागरिकों ने नये पोषाख में ईद की मुबारकबाद दी. नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री बाबूलाल गौर ने ईद-उल-फितर के मुबारक मौके पर ताजुल मसाजिद जाकर मुस्लिम भाईयों को ईद की बधाई एवं शुभकामनाएं दी.

महापौर श्रीमती कृष्णा गौर ने ईद-उल-फितर के मुबारक मौके पर शहर काजी सै. मुस्ताक अली एवं मुफ्ती अब्दुल कलाम सा. को उनके निवास पर जाकर ईद की बधाई एवं शुभकामनाएं दी. महापौर ने ईद-उल-फितर के पावन पर्व पर सोमवार कांग्रेस पार्षद दल के नेता मो. सगीर पार्षद श्रीमती माहिरा सलामउद्ïदीन श्रीमती शाविस्ता सुल्तान, श्रीमती तस्लीम लश्करी, श्रीमती चांद बी, अनवर खान, अजीजउद्ïदीन, रेहान अहमद आदि सहित अनेक गणमान्य नागरिकों को उनके निवास पर जाकर उन्हें एवं उनके परिजनों को ईद की बधाई एवं शुभकामनाएं दी.
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देश-प्रदेश की खुशहाली की कामना की. इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा, भाजपा जिलाध्यक्ष आलोक शर्मा, अनवर मोहम्मद खान और कई गणमान्य नागरिक मौजूद रहे.

जेल परिसर में ईद

केन्द्रीय जेल भोपाल में ईद-उल-फितर के अवसर पर सहिष्णुता एवं भाईचारे का उदाहरण देखने को मिला. प्रात:काल मसाजिद कमेटी भोपाल की ओर से आए जनाब अली कदर द्वारा मुस्लिम धर्मावलंबी कैदियों को सामूहिक नमाज सम्पन्न कराई गई. सभी धर्म के बंदियों ने आपस में एक दूसरे को गले लगाकर ईद की बधाईयां दी. ईद-उल-फितर के शुभ अवसर पर केन्द्रीय जेल भोपाल में परिरुद्घ बंदियों को उनके महिला परिजनों से ईद-मिलन हेतु विशेष व्यवस्था की गई. इस अवसर पर केन्द्रीय जेल भोपाल में परिरुद्घ बंदियों से उनके परिजनों से मूुलाकात हेतु विशेष व्यवस्था की गई. जेल में परिरुद्घ पुरुष बंदियों से 3588 महिला परिजनों ने मुलाकात की एवं ईद की मुबारकबाद दी गई वहीं दूसरी ओर जेल पर परिरुद्घ 164 महिला बंदियों से 29 पुरुष परिजनों द्वारा ईद उल फितर के अवसर पर अपनी बहनों को ईद की मुबारकबाद दी गई. महिला बंदियों से 280 महिला परिजनों द्वारा भी मुलाकात की गई. मुलाकात को व्यवस्था प्रात: 8.00 बजे से दोपहर 3 बजे तक चालू रखी गई.

मुख्यमंत्री ने ईद की शुभकामनाए दीं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सुबह ईदगाह हिल स्थित ईदगाह पहुंचकर मुस्लिम भाइयों को ईद की मुबारकबाद दी. चौहान ने नमाजियों पर गुलाब की पंखुडिय़ों की वर्षा की. बच्चों को प्यार-दुलार दिया. आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री ने ईद के मुबारक पर्व पर देश-प्रदेश के नागरिकों को ईद की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह प्रेम भाई-चारे और सद्ïभावना का पर्व है. इसे सब मिल जुलकर मनाएं और देश और प्रदेश की समृद्धि के लिये प्रयास करें. इस अवसर पर संकल्प लें कि बुराई से दूर रहकर अच्छाई को अपनायेंगे और प्रेम तथा भाईचारे को बढायेंगे. उन्होंने इस मुबारक अवसर पर ईश्वर से देश-प्रदेश और दुनिया में अमन चैन की दुआ मांगी.

उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश के लोगों की जिन्दगी में समृद्धि आये उनका जीवन-स्तर ऊपर उठे तथा सबकी समस्याएं हल हो.  इस अवसर पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सांसद प्रभात झा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, भाजपा के जिलाध्यक्ष आलोक शर्मा, अभिनेता रजा मुराद सहित अनेक जन प्रतिनिधि और वरिष्ठ प्रशासनिक पुलिस अधिकारी उपस्थित थे. सुबह लगभग 8.15 बजे से शुरू हुआ ईद मिलन का यह सिलसिला दोपहर लगभग डेढ़ बजे तक चलता रहा. चौहान ने इस बीच हर काजी मुश्ताक अली मुफ्ती, अब्दुल रज्जाक बोहरा समाज के आमिल शेख, अब्दुल हुसैन मदरसा बोर्ड के चेयरमेन राशिद भाई उर्दू अकादमी के अध्यक्ष सलीम कुरैशी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री आरिफ बेग, विधायक आरिफ अकील, मोहम्मद अनवर, नायब काजी बाबर भाई ,एडवोकेट साजिद अली, समाज सेवी मुस्तकीम बेग मुन्नू आदि के घरों में जाकर ईद की शुभकामनाएँ दी. रास्ते में भी वे अनेक जगह रुके और लोगों से गले मिले. दाऊदी बोहरा समाज द्वारा मुख्यमंत्री का शाल भेंट कर सम्मान किया गया.

ईदगाह जा रहे आरएसएस नेता सुदर्शन को रोका!

ईद पर लोगों को बधाई देने के लिए ईदगाह जा रहे आरएसएस के पूर्व प्रमुख केएस सुदर्शन को प्रशासन ने स्टेट बैंक चौराहा पर रोक दिया. इसके बाद नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर उन्हें अपने साथ ले आए. सुदर्शन बाद में कुछ मुस्लिम धर्मगुरुओं के निवास पर गए और उन्हें ईद की बधाई दी. संघ के 75 वर्ष से अधिक के इतिहास में संभवत: यह पहला मौका है, जब संघ के किसी राष्ट्रीय स्तर के नेता ने ईद पर सार्वजनिक बधाई दी हो. एसपी (नॉर्थ) अरविंद सक्सेना ने कहा कि सुदर्शन थोड़ा विलंब से पहुंचे थे, और लोगों का लौटना शुरू होने से वाहनों की कतार लग गई थी, इस वजह से उन्हें जाने से रोका गया.

Related Posts: