भोपाल 29 अगस्त. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने कहा है कि पिछले दिनों लगातार भारी बारिश के कारण विदिशा, रायसेन, होशंगाबाद तथा रायसेन जिले में खेतों पर खड़ी सोयाबीन की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है.

बारिश का पानी उतरने पर सोयाबीन के पत्तों पर मिट्टी जम गई है तथा पौधे सड़ गए हैं. खेतों की हालत ऐसी हो गई है कि उनमें सोयाबीन के उत्पादन की उम्मीद न के बराबर है. प्रभावित किसानों का कहना है कि खेतों की फ सल गल गई है. वित्त मंत्री राघवजी ने स्वयं स्वीकार किया है कि विदिशा जिले में सोयाबीन की फसल 40 प्रतिशत खराब हो चुकी है. अन्य दो मंत्रियों सरताजसिंह और जयंत मलैया ने भी माना है कि बारिश में फ सलों को काफी नुकसान हुआ है, उधर,भूरिया ने बयान में कहा कि बम्पर फ सल होने के दावे का प्रचार-प्रसार तो खूब किया, किंतु इन दावों के बावजूद किसानों को बांटे जा रहे बीज, खाद और कीटनाशक ही घटिया साबित हो रहे हैं. अनेक जिलों से शिकायतें मिल रही हैं कि वहां उन्हें घटिया किस्म के अमानक बीज और खाद थमाये जा रहा है. किसानों के साथ किए जा रहे इस छलावे की निंदा करते हुए कहा कि इससे किसान ‘”हीरो”नहीं ”जीरो” बनने के लिए मजबूर हो जायेगा.

Related Posts: