नई दिल्ली, 5 दिसंबर. वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने सोमवार को सुषमा स्वराज और सीताराम येचुरी सहित विपक्षी पार्टियों के नेताओं से कहा कि खुदरा एफडीआई का विवादास्पद फैसला रोक दिया गया है और इस बारे में कोई भी अंतिम फैसला सभी विपक्षी दलों के साथ सलाह मशविरे के बाद ही किया जाएगा । मुखर्जी की सुषमा और येचुरी के साथ बातचीत के बाद सूत्रों ने बताया कि सरकार फैसले को स्थगित रखना चाहती है । वह अंतिम फैसला सभी विपक्षी दलों और संबद्ध पक्षों से सलाह मशविरे के बाद ही करेगी ।

इन्दौर में हुआ सुषमा-प्रणब संवाद
इन्दौर, 5 दिसंबर. सुषमा स्वराज आज जब इन्दौर में प्रेस से बातचीत कर रही थीं, उसी दौरान उनके मोबाइल पर प्रणब मुखर्जी का फोन आया. उन्होंने संसद की कार्रवाई सुचारू रूप से चलने देने व इसमें आ रहे गतिरोध को समाप्त करने का अनुरोध किया.  श्रीमती स्वराज ने वित्तमंत्री से कहा कि एफडीआई मसले पर संसद में खुली बहस होनी चाहिए.  इस मसले पर सर्वदलीय बैठक बुलवाकर आम सहमति से ही कोई निर्णय लिया जाना चाहिए.

Related Posts: