भोपाल। मप्र खेल एवं युवा कल्याण विभाग प्रदेश में जल्दी ही पांच अकादमी और स्थापित करने जा रहा है। यह अकादमी अगले सत्र जुलाई से शुरू हो जाएंगी। नई अकादमियों में एथलेटिक्स, तैराकी, टेबल टेनिस, भारोत्तोलन और तीरंदाजी शामिल है। अभी कुल 16 अकादमी प्रदेश में संचालित हैं।

इन पांच अकादमियों में से दो एथलेटिक्स और तैराकी भोपाल में खुलेंगी, जबकि टेबल-टेनिस इंदौर में, तीरंदाजी और भारोत्तोलन जबलपुर में रहेंगी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इन पांचों अकादमी के लिए बहुत दिनों से तैयारी चल रही है। इनके लिए कोचों की भी तलाश पूरी हो चुकी है और सोमवार को मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक में इस पर अंतिम मुहर लग सकती है।

ग्वालियर में है महिला हॉकी, बैडमिंटन और क्रिकेट अकादमी
प्रदेश की 16 खेल अकादमियों में से तीन अकादमी महिला हॉकी, क्रिकेट और बैडमिंटन ग्वालियर में है। कंपू स्थित खेल परिसर में खिलाड़ियों की आवास और खेल व्यवस्था है। यहां पर पिछले दिनों बाकायदा हॉकी टर्फ बिछाया गया है और हॉस्टल भी तैयार किया गया है।

हॉस्टल भी लगभग तैयार 
अकादमी के करीब 180 खिलाड़ियों की आवास व्यवस्था पिछले तीन-चार साल से तात्या टोपे स्टेडियम में है। इनके लिए मयूर पार्क स्थित स्टेट हॉस्टल परिसर में नया हॉस्टल बन रहा है, जो लगभग तैयार है। 250 बिस्तर वाले इस हॉस्टल में पहले फेस में 100 खिलाड़ियों के रहने की व्यवस्था हो जाएगी। इसके दो मंजिल बनकर तैयार हो गए हैं जो बारिश के बाद शुरू होने की उम्मीद की जा रही है।

अगले महीने से शुरू होगा टैलेंट सर्च
इन पांचों नई अकादमियों के लिए खिलाड़ियों के चयन की प्रक्रिया अगले महीने से शुरू होने जा रही है। प्रदेश के सभी सातों संभागों से खिलाड़ियों को तलाशा जाएगा। प्रदेशभर के एथलीट और तैराक भोपाल में अकादमी खुलने से यहां प्रशिक्षण ले सकेंगे। इनके लिए कोचों की तलाश कर ली गई है। लेकिन घोषणा होना अभी बाकी है।

भोपाल में ये हैं संचालित
रोइंग, कयाकिंग-केनोइंग, सेलिंग, पुरुष हॉकी, बाक्सिंग, जूडो, कराते, ताइक्वांडो, कुश्ती, फेंसिंग, वूशू, शूटिंग, घुड़सवारी हैं, जबकि एथलेटिक्स और तैराकी को मिलाकर पुन: 15 हो जाएंगी।

भोपाल में एथलेटिक्स और तैराकी अकादमी
वर्तमान में खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित 16 अकादमियों में से 13 भोपाल में है। एथलेटिक्स और तैराकी को अब मिलाकर यहां पर 15 खेलों की अकादमी हो जाएंगी। एथलेटिक्स के लिए तात्या टोपे स्टेडियम का सिंथेटिक ट्रैक तैयार है ही। जबकि तैराकी के लिए जब तक स्वीमिंग पूल का निर्माण नहीं हो जाता तब तक प्रकाश तरण पुष्कर से टाइअप किए जाने की योजना है।

Related Posts: