तात्कालित तौर पर व्यवस्था नहीं करने से आ रही भारी समस्या

ब्यावरा 10 अगस्त, का. भोपाल, हरदा, होशंगाबाद क्षेत्र जैसी भारी बारिश चाहे राजगढ़ जिले में नहीं हुई हो लेकिन राष्ट्रीय राजमार्गों पर जरूर विशाल गड्ढों ने वाहन चालकों और यात्रियों के लिये गुजरना मुश्किल कर दिया है.

महत्वपूर्ण बात यह है कि बारिश के मौसम में हाईवे पर अथवा किसी भी विभाग की सड़क का मामला हो वह गड्ढों के चलते खस्ताहाल जरूर होती है. किंतु यदि इन गड्ढों को पाटने के तात्कालिक प्रयास कर दिये जाये तो बड़ी मुसीबत छोटी समस्या में तब्दील हो जाती है. दु:ख की बात यह है कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर हो रहे इन गड्ढों को तात्कालिक रूप से पाटने के प्रयास दुर्भाग्यवश नहीं किये जा रहे है.

जिस आकार के गड्ढे भोपाल बायपास चौराहे पर करीब 4-5 स्थानों पर हो रहे है. उन्हें देखते हुए यह कोई भी कह सकता है कि ये गड्ढे कभी भी किसी की मौत के कारण बनेंगे ही. यह जानकर  और समझ लेने के बाद भी इन गड्ढों को डामर आदि से स्थायी तौर पर दुरूस्त करने की बजाय तात्कालिक तौर पर किसी भी प्रकार से इन्हें पाटने की आवश्यकता है. भोपाल बायपास चौराहे पर रिलायंस पेट्रोल पंप और मूंदड़ा पेट्रोल पंप के बीच कुछ गड्ढे तो इतने विशाल रूप ले चुके है कि अगर किसी वाहन चालक ने थोड़ी भी चूंक कर दी तो बड़ी दुर्घटना घटित हो सकती है. वाहनों को होने वाली क्षति का तो आंकलन करना बेकार है. किंतु सड़कों की जो स्थिति हो रही है उसको देखते हुए अगर अविलंब ध्यान नहीं दिया गया तो लोग मौत के आंकड़ों को गिनते हुए नजर आयेंगे. इस पर भी अगर शासन, प्रशासन, जनप्रतिनिधि उदास बने रहेंगे तो फिर सड़कों में गड्ढे नहीं कुंए, तालब नजर आयेंगे. ब्यावरा नगर के मध्य से निकले पुराने ए.बी. रोड़ एवं राजगढ़ रोड़ के गड्ढे तो लोक निर्माण विभाग ने पूर दिये है. इससे भी लोग राहत महसूस कर रहे है. यही उम्मीद नागरिक एनएच से हाईवे के गड्डों को पूरने की कर रह है.

Related Posts: