9 संस्थाओं और 13 समाज-सेवियों  का सम्मान

भोपाल, 28 दिसम्बर. सामजिक न्याय मंत्री गोपाल भार्गव ने आज निशक्त जनों के कल्याण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले समाज सेवियों एवं संस्थाओं को महर्षि दधिचि पुरस्कार प्रदान किया गया. सामाजिक न्याय विभाग द्वारा स्थानीय समन्वय भारत भवन में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में 9 संस्थाओं और 13 समाज-सेवियों को नौ लाख रुपए के महर्षि दधिचि पुरस्कार प्रदान किये गये.

भागर्व ने कहा कि महर्षि दधिचि का त्याग और बलिदान सामाज को समर्पित था. वे अच्छे समाज निर्माण के पक्षधर थे. भागर्व ने कहा कि परमार्थ अच्छे समाज की नीव और मानवता की सेवा है. जो परमार्थ के कार्य में अपना सब कुछ समर्पित कर रहे है लेकिन प्रदेश में ऐसी संस्थाओं की वृद्घि किया जाना बहुत जरूरी है जो नि:शक्त सेवा में अपना योगदान दें. वित्त मंत्री राघवजी ने कहा कि समाज कल्याण खासकर निशक्तजनों की सेवा बहुत ही पुनीत कार्य है. इस कार्य से जुड़े व्यक्तियों और संस्थाओं का समाज और सरकार दोनों को ही सदैव आदर व सम्मान करना चाहिये.

विभाग द्वारा नि:शक्तजनों के कल्याण के क्षेत्र में कार्य करने वाले समाज सेवियों और संस्थाओं को प्रतिवर्ष इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है. श्रवण वधित मंदबुद्घी एवं विकलांगों के लिये कार्य करनें वाले व्यक्तियों एवं संस्थाओं को पृथक पुरस्कार दिये जाते है. वर्ष 2009 संस्थागत पुरस्कार में दृष्टिï-बधित श्रेणी में अरुषि संस्थान भोपाल को प्रथम पुरस्कार रुपए एक लाख, दि ब्लाइण्ड रिलीफ एसोसिएशन भोपाल को द्वितीय पुरस्कार, रुपए पचास हजार, व्यक्तिगत पुरस्कार में श्रीमति विनीता कोपरगांवकर एवं उदय द्वितीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार दिये. संस्थागत पुरस्कार में अस्थि-बाधित के लिये मंगलम संस्था शिवपुरी को द्वितीय पुरस्कार रुपए पचास हजार, व्यक्तिगत पुरस्कार में ज्योत्सना श्रीवास्तव पत्नी स्व.श्री एके श्रीवास्तव, सुनील राय भोपाल को द्वितीय पुरस्कार रुपए पच्चीस-पच्चीस हजार एवं डॉ. जेड मिनाई को तृतीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार की राशि दी गई. व्यक्तिगत श्रेणी में मानसिक मंदता के लिये हीरालाल शर्मा बढ़वानी को द्वितीय पुरस्कार रुपए पचास हजार दिये एवं श्रीमति सीमा परिहार इंदौर को तृतीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार दिये गये. संस्थागत श्रेणी में श्रवण-बाधित के लिये विकलांग सेवा भारतीय संस्था जबलपुर को प्रथम पुरस्कार रुपए एक लाख एवं सौम्या महिला उच्च शिक्षा समिति जिला नरसिंहपुर को तृतीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार, व्यक्तिगत पुरस्कार में डॉ. रजिया खान एवं मुकेश बैरागी भोपाल को द्वितीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार प्रदान किया.

वर्ष 2010 में व्यक्तिगत पुरस्कार में दृष्टिï बाधितों के कल्याण कार्यो से जुड़े संतोषी सोनी सागर को द्वितीय पुरस्कार रुपए पचास हजार प्रदीप जैन खरगोन को तृतीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार दिये गये. व्यक्तिगत पुरस्कार में अस्थि-बाधित के लिये श्याम बहादुर सिंह सतना एवं संजय कुमार शर्मा छतरपुर को द्वितीय पुरस्कार रुपए पच्चीस-पच्चीस हजार, संस्थागत पुरस्कार में मानसिक मंदता के लिये संस्थागत में सेवाधाम आश्रम उज्जैन को प्रथम पुरस्कार रुपए एक लाख, वंदना पुनर्वास जबलपुर को द्वितीय पुरस्कार रुपए पचास हजारऔर एनी बेसेंट विद्यालय होशंगाबाद को तृतीय पुरस्कार रुपए पच्चीस हजार प्रदान किया गया.

Related Posts: