दर्जनों ऑपरेशन हुए प्रभावित, जूडा देंगे इस्तीफा

भोपाल, 15 नवंबर, नभासं. जूडा और सरकार के बीच बातचीत के उपरांत कोई समाधान नहीं होने के कारण जूडा ने प्रदेशव्यापी हड़ताल का आह्वïन किया. इस हड़ताल के चलते राजधानी सहित इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर और रीवा आदि में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुईं हैं. जूडा हड़ताल के कारण राजधानी के हमीदिया अस्पताल में करीब एक दर्जन ऑपरेशन प्रभावित हुये. साथ ही मरीजों को इलाज के लिये काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इसके अलावा सुल्तानिया अस्पताल से करीब एक दर्जन गर्भवती महिलाओं को प्रसूति के लिये प्रायवेट अस्पतालों की शरण में जाना पड़ा. इधर जूनियर डॉक्टरों ने इंदौर में सामूहिक इस्तीफा दे दिया है.

ऐसी ही परिस्थिति प्रदेश के सभी जिलों में है, जहां जूनियार डॉक्टरों ने अपना इस्तीफा देने की धमकी तक दे डाली. जूनियर डॉक्टरों द्वारा अपनी मांगें जूडा स्टायफंड, अस्पतालों में सुरक्षा, मानदेय में बढ़ोत्तरी को लेकर हड़ताल की है. इसी क्रम में राजधानी और रीवा में मंगलवार को जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल शुरू कर दी. सरकार और जूनियर डॉक्टरों के बीच अब आरपार की लड़ाई हो रही है जो कि शीघ्र ही थमती नजर नहीं आ रही है. राजधानी में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से डॉक्टरों की कमी को पूरी करने के लिये निजी डॉक्टरों का सहारा लिया जा रहा है.

Related Posts:

सशस्त्र परेड का पूर्वाभ्यास प्रारंभ
संवेदना में सारे जीवन मूल्य परिभाषित: डॉ. प्रणव पण्ड्या
व्यापमं घोटाला मामला: कांगे्रस के वरिष्ठ नेता पहुंचे जिला अदालत
विधानसभा में शर्मसार घटना, अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, बसपा विधायकों को दिखाई चप्...
प्रधानमंत्री को लाना है शो में : कपिल शर्मा
शो पीस बने ट्रैफिक सिग्नल नहीं हो रहा नियमों का पालन