भोपाल,13 दिसंबर. जन समस्या निदान के लिए प्रत्येक मंगलवार को आयोजित की जाने वाली जनसुनवाई का सिलसिला जारी है. आज मंगलवार 13 दिसम्बर 2011 को संभागायुक्त कार्यालय में संभागायुक्त श्री मनोज श्रीवास्तव के समक्ष दस आवेदकों ने अपनी समस्याएं रखीं.

समस्याओं पर गंभीरतापूर्वक विचार करते हुए संभागायुक्त द्वारा निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं . इसी तरह कलेक्ट्रेट कार्यालय में 119 आवेदकों ने अर्जियां प्रस्तुत की जिनका निराकरण करने के लिए अपर कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया . कलेक्ट्रेट में डिप्टी कलेक्टर श्री आशीष पाठक ने भी जनसुनवाई में आये आवेदकों की समस्यायें सुनीं और उनके निराकरण के लिए निर्देश विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दिए .

पुरा छिन्दवाड़ा में खेल मैदान
पुरा छिन्दवाड़ा ग्राम में अब खेल मैदान की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी. जनसुनवाई में ग्रामीणों द्वारा आवेदन दिया गया कि उनके गांव की आबादी तीन हजार के आसपास है और माध्यमिक स्कूल है परंतु खेल मैदान नहीं है. आवेदन पर विचार करते हुए अपर कलेक्टर सक्सेना ने अनुविभागीय अधिकारी हुजूर को निर्देश दिए कि वह ग्राम में जाकर स्थल का निरीक्षण करे और खेल मैदान के लिए जमीन आवंटन का प्रस्ताव दें.

मनमाने दाम पर बेचते हैं स्कूल यूनीफार्म
एक आवेदक ने जवाहर चौक स्थित एक दुकान में मनमाने दाम पर स्कूल यूनीफार्म बेचने का आरोप लगाते हुए जनसुनवाई में आवेदन दिया. आवेदक ने अपने आवेदन में स्कूल यूनीफार्म खरीदने के देयकों की फोटोकापी लगाते हुए कहा कि दुकान वाले बाजार रेट से डबल रेट पर यूनीफार्म का विक्रय कर रहे है. इस पर अपर कलेक्टर सक्सेना ने जिला शिक्षा अधिकारी को जांच कर प्रतिवेदन सौंपने के निर्देश दिए. जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों में भूमि विवाद, सीमांकन, नामांकन और बंटवारा तथा आर्थिक सहायता प्रदान करने जैसे अधिकांश आवेदन शामिल थे.

53 फरियादियों की हुई सुनवाई

भोपाल, 13 दिसंबर. पुलिस महानिदेशक एस.के. राउत ने मंगवार को यहां पुलिस प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान में आयोजित राज्य स्तरीय जन सुनवाई में 53 फरियादियों की समस्याओं और शिकायतों को गंभीरतापूर्वक सुना. राउत ने फरियादियों के सामने ही संबंधित वरिष्ठï पुलिस अधिकारी को टेलीफोन कर तुरंत कार्यवाही के निर्देश दिये.

पुलिस महानिदेशक राउत ने फरियादियों की सुनवाई करते हुये बताया कि अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक स्तर के अधिकारी जोनवाईज जन सुनवाई के मामलों की समीक्षा करेंगे. यह समीक्षा हर तीन माह में की जायेगी. समीक्षा के दौरान जन सुनवाई से आम जनता को मिलने वाली राहत का मूल्यांकन किया जायेगा. तद्ïनुसार जन सुनवाई की प्रक्रिया को व्यापक स्वरूप दिया जायेगा. पुलिस जन सुनवाई में भोपाल, सीहोर, सीधी, सतना, छतरपुर, मुरैना, शाजापुर, रायसेन, रीवा, सागर, रतलाम और शिवपुरी से फरियादी अपनी समस्यायें और शिकायतें लेकर पहुंचे. फरियादियों की शिकायतें और समस्यायें ज्यादातर चोरी, मारपीट, धमकी, हत्या, हत्या का प्रयास, मकान किरायेदारी, जमीन विवाद से संबंधित थीं. पुलिस जन सुनवाई में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डॉ. बी.एम. कुमार और पुलिस महानिरीक्षक के.एल. मीणा तथा अरूण राव भी उपस्थित थे. इन अधिकारियों ने भी फरियादियों को सुना और तुरंत आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की.

Related Posts: