इंदौर, 19 दिसम्बर. इंदौर के करोड़पति लिपिक रमन धुलधोए के निजी कागजात की तलाशी के लिए आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो के दल ने सोमवार को क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के कार्यालय में दबिश दी.

धुलधोए इसी कार्यालय में पदस्थ है. ज्ञात हो कि इंदौर के परिवहन कार्यालय में पदस्थ लिपिक रमन धुलधोए के यहां रविवार को ईओडब्ल्यू द्वारा मारे गए छापे में उसके 45 करोड़ रुपये की संपत्ति का मालिक होने का पता चला था. धुलधोए और उसकी संपत्ति का पता लगाने का अभियान अभी जारी है. ईओडब्ल्यू के पुलिस उपाधीक्षक ए. राणावत ने बताया है कि धुलधोए के निजी कागजात का पता लगाने के लिए सोमवार को क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में तलाशी ली. अभियान चलाया गया. वहीं, परिवहन अधिकारी ने धुलधोए का काम अन्य कर्मचारियों को सौंप दिया है.

कड़ी कार्रवाई होगी: सीएम
आरटीओ दफ्तर के जिस क्लर्क के घर से करोड़ों की संपत्ति मिली थी उसे निलंबित कर दिया गया है. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बातचीत में ये जानकारी दी.  चौहान ने कहा कि आरोपी आरटीओ क्लर्क के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Related Posts: